शैक्षिक महासंघ ने बीएसए के आदेश का किया विरोध

सोनभद्र, । राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ, सोनभद्र ने रविवार को बैठक कर बीएसए के आदेश पर कड़ा विरोध जताया। संघ के अनुसार आदेश में विद्यालय खुलने पर छात्रों को गणवेश, बैग ,जूता मोजा ,स्वेटर न पहन कर विद्यालय आने पर संबंधित शिक्षकगण को जिम्मेदार ठहराने की बात की गई है जो पूरी तरह गलत है। 




जिला संयोजक अशोक त्रिपाठी ने कहा कि जब डीबीटी के माध्यम से पैसा सीधे अभिभावकों के खाते में गया है तो इसके लिए उन्हें ही जिम्मेदार बनाना चाहिए। शिक्षक केवल अभिभावक को सूचित व आग्रह कर सकता है बाकि सम्पूर्ण कार्रवाई प्रशासन, बैंक और पुलिस विभाग ही कर सकता है। उन्होंने कहा कि ये बात सत्य है कि डीबीटी के पैसे से बहुत ही कम अभिभावक ने सामग्री का क्रय किया है। परन्तु इसमे शिक्षकों की क्या गलती है। यदि शिक्षकों पर दबाव बनाया गया तो वह आंदोलन करने को बाध्य होंगे। बैठक में मण्डल अध्यक्ष अखिलेश वत्स, जिला संयोजक अशोक कुमार त्रिपाठी, सहसंयोजक इन्दू प्रकाश सिंह, सौरभ श्रीवास्तव, संदीप, गणेश पाण्डेय, डेविड मौर्य, अरूणेश चन्द्र पाण्डेय आदि शामिल रहे।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇