ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद निरीक्षण करने पहुंचीं बीएसए बन गईं शिक्षक

 ग्रेटर नोएडा: ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद परिषदीय विद्यालय 16 जून से खुल गए हैं। स्कूलों के निरीक्षण के लिए मुख्य विकास अधिकारी की ओर से जनपद और विकासखंड स्तर पर टास्क फोर्स का गठन कर दिया गया है। जिला स्तर पर डीएम और बीएसए अध्यक्ष और सचिव हैं।



 जबकि ब्लाक स्तर पर एसडीएम और बीईओ अध्यक्ष और सचिव बनाए गए हैं। टास्क फोर्स में शामिल प्रत्येक सदस्य को हर दिन कम से कम चार स्कूलों का निरीक्षण करना है। शुक्रवार को बेसिक शिक्षा अधिकारी ऐश्वर्या लक्ष्मी ग्रेटर नोएडा में स्थित चार स्कूलों का निरीक्षण करने के लिए निकलीं। उन्होंने मथुरापुर प्राथमिक विद्यालय, बिरोंडी प्राथमिक विद्यालय और उच्च प्राथमिक विद्यालय के साथ क्यामपुर प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया। क्यामपुर प्राथमिक विद्यालय में औचक निरीक्षण करने गई बीएसए शिक्षक बन गईं। बीएसए ऐश्वर्या लक्ष्मी कक्षा एक के बच्चों के साथ ड्राइंग करने के लिए बैठ गई। ड्राइंग कर रहे बच्चों से उन्होंने रंगों के बारे में भी पूछा। उसके बाद उन्होंने बिरोंडी के उच्च और प्राथमिक विद्यालय का भी निरीक्षण किया। शिक्षकों से उन्होंने पूछा कि किस प्रकार वह बच्चों को पढ़ाते हैं। शिक्षकों के बाद उन्होंने बच्चों से भी पढ़ाई के बारे में जानकारी ली। मथुरापुर प्राथमिक विद्यालय में प्रवेश करते ही बीएसए ने स्कूल की साफ सफाई, बागवानी इत्यादि की प्रशंसा की। उन्होंने बच्चों से सवाल किए बच्चों ने सभी सवालों के उत्तर दिए।

ग्रेटर नोएडा के चार स्कूलों का निरीक्षण किया गया। जिन स्कूलों में छात्र संख्या कम दिखाई दी, उनके शिक्षकों को घर जाकर छात्रों को बुलाने के लिए कहा गया है।

- ऐश्वर्या लक्ष्मी,बीएसए

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇