एक-एक परिषदीय स्कूल में जमे हैं 13-13 शिक्षक, महानिदेशक ने क्रास चेक के दिए निर्देश


बाराबंकी:-राजधानी की सीमा से सटे जिले के परिषदीय स्कूलों में पहुंच व जुगाड़ के भरोसे जमे शिक्षकों में इन दिनों हड़कंप है । जिले में सभी शिक्षकों का अंर्तजनपदीय स्थानांतरण होना है । इसके लिए सभी शिक्षकों का मानव संपदा पोर्टल पर फीडिंग हो चुकी है । महानिदेशक स्कूल शिक्षा ने बीएसए को शिक्षकों की फीडिंग में हुई गलतियों के सुधार के निर्देश दिए हैं समायोजन प्रक्रिया ऑन लाइन होगी । इससे स्कूलों में जमी फौज को भी हटाए जाने का डर बना है ।

सीमावर्ती स्कूलों में शिक्षकों की फौज:
राजधानी लखनऊ व बाराबंकी जिले की सीमा सटी । रहने के लिए लखनऊ ही शिक्षकों की पहली पसंद है । इतना ही नहीं अधिकारियों व पहुंचवाले लोगों की पत्नियां सीमावर्ती स्कूलों में ही तैनात हैं ।

यही वजह है कि प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों की फौज है । पूर्व माध्यमिक विद्यालय कुर्सी व प्राथमिक विद्यालय कुर्सी प्रथम में 9-9 शिक्षक हैं । पूर्व माध्यमिक विद्यालय बहरौली में 13 शिक्षक हैं । पूर्व माध्यमिक विद्यालय उमरा , अमरसंडा में 9-9 शिक्षक तैनात । यूपीएस समरदा , घुंघटेर में 8-8 शिक्षक तैनात हैं । इसी तरह कई प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों पांच से सात शिक्षक तैनात हैं ।

फीडिंग में गलती सुधार का मौका:
सरयू के तराई क्षेत्र में बसे स्कूलों में कई ऐसे हैं जहां सिर्फ एक ही शिक्षक है । कुछ तो ऐसे भी हैं जो शिक्षा मित्र अनुदेशक के भरोसे ही चल रहे हैं इस विसंगति को दूर करने के लिए शिक्षकों का अंर्तजनपदीय स्थानांतरण किया जाना है । इसकी प्रक्रिया चल रही है । इससे शिक्षकों में हड़कंप मचा है । महानिदेशक स्कूल शिक्षा ने सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को आदेश दिया है कि मानव सम्पदा पोर्टल पर शिक्षकों की फीडिंग में बड़ी गड़बड़ी है ।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇