बेसिक स्कूलों में नई पहल, प्रश्नोत्तरी से ढूंढेंगे हल

Sonebhadra: परिषदीय विद्यालयों की शिक्षा गुणवत्ता व विद्यार्थियों के बौद्धिक स्तर में सुधार लाने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से एक नई पहल की गई है। जिले के सभी परिषदीय विद्यालयों में अब हर शनिवार को प्रश्नोत्तरी का आयोजन किया जायेगा। इसके लिए बीएसए की ओर से सभी स्कूलों को निर्देश भी दिये गये हैं।


शासन के निर्देश पर एक ओर जहां जिले के परिषदीय विद्यालयों में अधिक से अधिक बच्चों का नामांकन कराने के लिए शिक्षकों की ओर से जोर लगाया जा रहा है। तो वहीं दूसरी ओर बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रमों के माध्यम से परिषदीय स्कूलों को निजी से बेहतर बनाया जा रहा है। इसी क्रम में बीएसए हरिवंश कुमार के निर्देश पर अब शिक्षक सप्ताह में जो भी बच्चों को पढ़ाएंगे उसके आधार पर प्रश्नों की एक क्विज तैयार करेंगे। प्रत्येक शनिवार को विद्यार्थियों के बीच प्रश्नोत्तरी होगी। सही जवाब देने वाले बच्चों को प्रोत्साहित किया जाएगा, वहीं गलत जवाब देने वाले बच्चों के स्तर में सुधार के लिए उन पर अलग से काम किया जाएगा। इस दौरान यह भी ध्यान दिया जायेगा कि कोई भी विद्यार्थी हतोत्साहित न हो। बेसिक शिक्षा विभाग का मानना है कि स्कूलों में प्रश्नोत्तरी कराने से विद्यार्थियों में पढ़ाई के प्रति रुचि बढ़ेगी। वहीं प्रार्थना सभाओं के दौरान विद्यार्थियों को उस दिन की प्रमुख खबरों और अपने आसपास की प्रमुख घटनाओं की भी जानकारी दी जायेगी।

बेसिक शिक्षा विभाग के पास योग्य शिक्षक हैं, जिनका सही इस्तेमाल कर हम शिक्षा के स्तर और विद्यार्थियों के बौद्धिक स्तर में सुधार ला सकते हैं। विभागीय आदेशों के साथ ही शिक्षकों को अपने स्तर से भी नए प्रयोग कर विद्यार्थियों को अधिक से अधिक लाभ देना चाहिए। हरिवंश कुमार, बीएसए।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇