मानव संपदा पोर्टल पर दर्ज ब्योरे में खामी न होने का देना होगा प्रमाण पत्र

बस्ती,  बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय स्कूलों में तैनात शिक्षकों व यहां अध्ययनरत छात्र-छात्राओं का डाटा त्रुटिरहित मानव संपदा पोर्टल पर दर्ज हो, इसके लिए विभाग ने सख्त रूख अपनाया है। महानिदेशक स्कूल शिक्षा स्तर से समस्त शिक्षकों का डाटा और विद्यालयों से संबंधित अन्य डाटा शत-प्रतिशत सही कराने का निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिया गया है। डाटा त्रुटिरहित होने के प्रमाण के साथ भेजने को कहा गया है।



खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि मानव संपदा पोर्टल पर वे अपनी लॉगिन से उनके विकास खंड में स्थित विद्यालयों की रिपोर्ट डाउनलोड कर लें। यदि इस रिपोर्ट में प्रदर्शित कार्यरत शिक्षकों की संख्या विद्यालय में कार्यरत वास्तवित शिक्षकों की संख्या से अधिक प्रदर्शित हो रही है तो इसका पता लगाएं। सुनिश्चित कर लें कि सेवानिवृत, मृत शिक्षक या सेवा समाप्त शिक्षक के संबंध में ट्रांजेक्शन का अंकन कर दिया गया है।

साथ ही स्थानांतरित होकर गैरजनपद गए शिक्षकों के रिलीविंग कर दी गई है। यदि इस प्रक्रिया के बाद भी किसी अवांछित कार्मिक की आईडी विद्यालय में प्रदर्शित हो रहा है तो उसे अननोन लोकेशन पर रिलीव कर दिया जाए। इसी तरह अगर स्कूल पर शिक्षक की संख्या कम प्रदर्शित हो रही है तो उसे चेक कर लिया जाए। 30 अप्रैल 2022 तक हुए परिषदीय स्कूलों में हुए नामांकन का डाटा त्रुटि रहित दर्ज होने की पुष्टि भी करनी होगी।


कम्पोजिट स्कूल में कक्षा एक से पांच और छह से आठ का नामांकन सही कॉलम में दर्ज होने का अनिवार्य रूप से मिलान किया जाए। सहायक अध्यापक प्राइमरी स्तर को छोड़कर अन्य समस्त शिक्षकों का सबजेक्ट मैपिंग सही तरीके से दर्ज होना चाहिए। साथ ही सभी अध्यापकों की वर्तमान तैनाती पोर्टल पर सही प्रदर्शित हो रही है, इसका भी मिलान कर लें। अगर गलती है तो उसे दूर कर लिया जाए। सभी त्रुटियों को दूर करते हुए प्रमाण पत्र के साथ डाटा राज्य परियोजना कार्यालय को भेजा जाए।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇