यूनीफॉर्म पहने बच्चों की फोटो डालें, डीबीटी की धनराशि के दुरुपयोग पर लगेगी रोक


बहराइच, परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं की यूनीफॉर्म पहने फोटो प्रेरणा पोर्टल पर अपलोड की जाएगी। बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से डीबीटी योजना के तहत छात्र-छात्राओं को मिलने वाली धनराशि का दुरुपयोग रोकने के लिए यह कवायद की जा रही है। चालू शैक्षिक सत्र में जिले में स्थापित परिषदीय विद्यालयों में पंजीकृत छात्र-छात्राओं की संख्या छह लाख से अधिक है। पोर्टल पर सभी छात्र-छात्राओं के फोटो अपलोड करने का जिम्मा शिक्षकों को सौंपा गया है।

डीबीटी (डायरेक्ट बेनीफिट ट्रांसफर) योजना के तहत परिषदीय विद्यालयों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं की यूनीफॉर्म, स्कूल बैग, जूते, मोजे व स्वेटर खरीद के लिए 1100 रुपये की धनराशि उनके अभिभावकों के खाते में भेजी जाती थी। इस वर्ष इसमें स्टेशनरी खरीद के लिए सौ रुपये की वृद्धि करते हुए अभिभावकों के खाते में 1200 रुपये की धनराशि भेजी जा रही है। लगभग चार लाख से अधिक अभिभावकों के खातों में धनराशि पहुंच भी चुकी है। बीते वित्तीय सत्र में अधिकांश अभिभावकों ने डीबीटी की रकम कहीं और खर्च कर दी थी। अब ऐसा न हो इसके लिए इस बार सभी छात्र-छात्राओं की यूनीफॉर्म पहने स्कूल बैग के साथ फोटो प्रेरणा पोर्टल पर अपलोड की जाएगी।

यूनिफॉर्म नहीं खरीदी जाती है तो अगले चरण में योजना के तहत मिलने वाले लाभ से वंचित कर दिया जाएगा। बीएसए एआर तिवारी ने बताया कि प्रेरणा पोर्टल पर यूनीफॉर्म में फोटो अपलोड करने के निर्देश दिए गए हैं। हालांकि, इस वर्ष अधिकांश अभिभावकों ने ड्रेस खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇