सहायक अध्यापिका का फर्जी हस्ताक्षर बनाने पर प्रधानाध्यापक निलंबित


कुशीनगर।

फाजिलनगर ब्लॉक के कंपोजिट विद्यालय नदवा विशुनपुरा में कई दिन से अनुपस्थित सहायक अध्यापिका का फर्जी हस्ताक्षर बनाने पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने प्रधानाध्यापक रामबहादुर राय को निलंबित का जांच कमेटी गठित कर शीघ्र रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया है।

पिछले 23 अगस्त को जिला समन्वयक के औचक निरीक्षण में फाजिलनगर ब्लॉक के संविलयन विद्यालय नदवा विशुनपुरा में प्रधानाध्यापक सहित दो सहायक अध्यापक, दो शिक्षामित्र उपस्थित मिले। वही दो सहायक अध्यापक प्रियंका शर्मा तथा अंजू प्रसाद अनुपस्थित मिली। जांच अधिकारी को प्रधानाध्यापक ने बताया कि अंजू प्रसाद बाल्यकाल देखरेख के लिए अवकाश पर हैं तथा प्रियंका शर्मा समीप के विद्यालय माधोपुर एकल विद्यालय पर शिक्षकों के प्रशिक्षण में शामिल हैं, जबकि नदवा विशुनपुरा कंपोजिट विद्यालय की उपस्थिति पंजिका पर उनका हस्ताक्षर अंकित था। पूर्व और उस दिन के हस्ताक्षर में भिन्नता मिलने पर तथा बच्चों द्वारा उक्त शिक्षिका के 15 से 20 बीस दिन से नहीं आने की बात सामने आने पर माधोपुर एकल विद्यालय पर जाकर अधिकारियों ने पता किया तो शिक्षामित्र सविता राय फाजिलनगर पढ़ाती मिली तथा शिक्षिका गायब मिलीं।


बच्चों द्वारा नहीं आने की बात बताई गई। नदवा विशुनपुर विद्यालय पर पहुंच कर जिला समन्वयक के पूछने पर प्रधानाध्यापक ने उपस्थित पंजिका पर अपना हस्ताक्षर होना कबूल कर लिया और 1 अगस्त से सहायक अध्यापिका के नहीं आने की बात सामने आयी। विद्यालय में नामांकित बच्चों के सापेक्ष उपस्थित बच्चों की संख्या बहुत कम मिली। वहीं एमडीएम में पूर्व से ही बहुत अधिक बच्चों को भोजन कराना दर्शाया गया था। इन कमियों के आधार पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कमलेंद्र कुमार कुशवाहा ने तत्काल प्रभाव से प्रधानाध्यापक रामबहादुर राय को निलंबित करते हुए उरुसवा उच्च प्राथमिक विद्यालय से संबद्ध कर दिया है। विभागीय जांच कमेटी गठित कर शीघ्र रिपोर्ट प्रेषित करने का आदेश दिया है।


UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇