बेसिक शिक्षा विभाग के खाते में रकम फिर भी नौनिहाल झेल रहे सर्दी का सितम

अमरोहा। बेसिक शिक्षा विभाग के खाते में रकम होने के बाद भी 64,452 बच्चों के अभिभावकों के खातों में धनराशि ट्रांसफर नहीं की गई है। इस कारण छात्र-छात्राएं घरेलू कपड़ों, स्वेटर और चप्पल में स्कूल आ रहे हैं। वहीं, पहले चरण में 81 हजार बच्चों के अभिभावकों के खाते मेें रुपये भेजे गए थे।


जिले के अनुदानित मदरसे और परिषदीय स्कूलों में करीब डेढ़ लाख छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद सभी विद्यार्थियों के अभिभावकों के खाते में 1100-1100 रुपये स्थानांतरित किए जाने हैं, ताकि स्वेटर, जूता-मोजा और यूनिफॉर्म खरीद सकें। हालांकि, पहले चरण में छह नवंबर को 81,428 बच्चों के अभिभावकों के बैंक खाते में रुपये भेजने का दावा किया गया है। वहीं, तकनीकी खामियों के चलते कई अभिभावकों के खाते में रुपये नहीं आए हैं। 50 दिन पहले करीब 64 हजार छात्र-छात्राओं के अभिभावकों के खाते में रुपये ट्रांसफर किए गए थे, लेकिन 64,452 बच्चों के अभिभावकों के खाते में अब तक रुपये नहीं आए हैं। इस कारण से छात्र-छात्राएं ठंड में भी बगैर जूता और घरेलू स्वेटर में आ रहे हैं।

अभिभावकों के खाते में 1100-1100 रुपये भेजे जा रहे हैं। लगभग 60 प्रतिशत बच्चों के अभिभावकों को रुपये भेजे जा चुके हैं। चंद्रशेखर, बीएसए


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇