सीबीएसई ने शुरू की आंतरिक मूल्यांकन की तैयारी, इस विधि से होगा मूल्यांकन

गोरखपुर। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने आंतरिक मूल्यांकन के लिए पोर्टल खोल दिया है। स्कूलों द्वारा उम्मीद जताई जा रही है कि बोर्ड ने पोर्टल इंटर के छात्रों के मूल्यांकन के लिए ही खोला है। स्कूल विद्यार्थियों की ग्रेड‍िंग तीन आंतरिक विषयों में करते हैं। इनमें शारीरिक शिक्षा, सामान्य अध्ययन तथा समाजोपयोगी कार्य शामिल है।


ऐसे होता है मूल्‍यांकन

विद्यार्थियों का मूल्यांकन स्कूल छह स्तरों पर करते हुए उन्हें ए प्लस, ए, बी प्लस, बी, सी प्लस तथा सी में से कोई एक ग्रेड देते हैं। स्कूल से मिले इस ग्रेड का उल्लेख बोर्ड संबंधित छात्र के अंकपत्र पर भी करता है। विद्यार्थियों द्वारा पूरे सत्र में गई गतिविधियों के आधार पर स्कूल इनका मूल्यांकन करते हैं। पाठ्यक्रम में सम्मिलित इन तीनों विषयों के तहत मूल्यांकन कर प्रति वर्ष स्कूल अपने स्तर से करके बोर्ड को भेजता है।

स्कूल आंतरिक मूल्यांकन की तैयारी शुरू कर दें। बोर्ड जल्द ही इसको लेकर स्कूलों को सूचित करेगा। – अजीत दीक्षित, जिला समन्वयक, सीबीएसई।

सौ अभ्यर्थियों ने छोड़ी सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा

सैनिक स्कूल में कक्षा छह एवं नौ में प्रवेश के लिए अखिल भारतीय सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा रविवार को शहर के दो केंद्रों पर हुई। राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी द्वारा आयोजित परीक्षा में दोनों केंद्रों पर कुल 1100 अभ्यर्थी पंजीकृत थे, जिनमें 100 ने परीक्षा छोड़ दी। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए परीक्षा केंद्रों पर कोविड गाइड लाइन का कड़ाई से अनुपालन किया गया। अभ्यर्थियों को थर्मल स्‍कैन‍िंग के बाद ही परीक्षा कक्ष में प्रवेश दिया गया। जिनके पास मास्क नहीं थे, उन्हें मास्क उपलब्ध कराया गया। सिटी कोआर्डिनेटर अजीत दीक्षित ने बताया कि दोपहर दो से पांच बजे तक आयोजित परीक्षा के लिए नवल्स नेशनल एकेडमी राप्तीनगर व रेलवे सीनियर सेकेंड्री स्कूल कौवाबाग को केंद्र बनाया गया था। शारीरिक दूरी का पालन करते हुए प्रत्येक परीक्षा कक्ष में 24 अभ्यर्थियों को बैठने की व्यवस्था की गई थी। परीक्षा पूरी तरह से शांतिपूर्ण ढंग से हुई।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇