गड़बड़ी : लिपिकों-शिक्षक की नियुक्ति में फर्जीवाड़ा की होगी जांच


लिपिकों-शिक्षक की नियुक्ति में फर्जीवाड़ा की जांच होगी

देवरिया । बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में कार्यरत दो लिपिकों व एक शिक्षक की नियुक्ति में गड़बड़ी मिली है। एडी बेसिक की जांच में विभाग को गुमराह कर नौकरी हासिल करने की बात कही गई है। उन्होंने बेसिक शिक्षा अधिकारी को कार्रवाई का निर्देश दिया है। एडी बेसिक की जांच रिपोर्ट को लेकर विभाग में हड़कम्प मचा हुआ है। दोनों लिपिक महत्वपूर्ण माने जाने वाले पटल पर कार्यरत हैं। वहीं शिक्षक एक साल पूर्व सेवानिवृत्त हो चुका है।




बनकटा क्षेत्र के बभनौली गांव निवासी राममूरत यादव ने आईजीआरएस के माध्यम से बीएसए कार्यालय में तैनात लिपिक प्रीतम सिंह पुत्र विजय बहादुर सिंह, जयशंकर श्रीवास्तव पुत्र चंद्रबली श्रीवास्तव और इनके सगे भाई सेवानिवृत्त शिक्षक अशोक लाल श्रीवास्तव की मृतक आश्रित के तहत नियुक्ति में फर्जीवाड़ा कर नौकरी हासिल करने की शिकायत सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक सप्तम मण्डल गोरखपुर से की थी। जांच के दौरान एडी बेसिक डॉ. सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी को शिकायतकर्ता की शिकायत सही मिली। अपनी रिपोर्ट में एडी बेसिक ने लिखा है कि प्रीतम सिंह की नियुक्ति में तथ्य छिपाकर विभाग को गुमराह करने का मामला सत्य पाया गया। वहीं एक अन्य लिपिक जयशंकर श्रीवास्तव और इनके भाई अशोक लाल श्रीवास्तव के मामले में भी मृतक आश्रित नियुक्ति के संबंध में जारी शासनादेशों का उल्लंघन कर नियुक्ति की गई।


UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇