चार्ज न देने और न लेने पर शिक्षकों को प्रतिकूल प्रविष्टि, जानें क्या है मामला


आठ माह पहले जारी हुआ था आदेश नहीं हुई कार्रवाई
हरदोई। बावन प्राथमिक विद्यालय साबिरपुर में विद्यालय प्रबंध समिति च रसोइया चयन में अनियमितता के आठ मह पुराने मामले ने रोचक मोड़ ले लिया है। अनियमितता के दोषी प्रधानाध्यापक से चार्ज लेकर सहायक अध्यापिका को सौंपने के आदेश दिए गए थे, लेकिन दोनों शिक्षकों की मनमानी की वजह से मामला उलझ गया प्रधानाध्यापक चार्ज देने को तैयार नहीं है और सहायक अध्यापिका खुद को अक्षम बताकर चार्ज लेने से इनकार कर रही हैं। विभाग ने दोनों शिक्षकों को प्रतिकूल प्रविष्टि जारी कर दी है।

आठ माह पूर्व बावन ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय साबिरपुर में एक शिकायत की जांच बीईओ टोडरपुर, सुरसा, बावन और सांडों की टीम ने की थी। जांच में स्कूल के प्रधानाध्यापक हेमंत कुमार पांडेय को विद्यालय प्रबंध समिति व रसोइया चयन में अनियमितता का दोषी पाया गया था।


जांच आख्या के आधार पर प्रधानाध्यापक की दो वेतन वृद्धियां रोकने के साथ ही उनसे सभी वित्तीय व प्रशासनिक चार्ज लेकरविद्यालय की सहायक अध्यापिका आकांक्षा पटेल को सौंप देने के आदेश जारी हुआ था। मजेदार बात ये है कि सहायक अध्यापिका ने यह कहकर चार्ज लेने से इनकार कर दिया कि वह इसके लिए मानसिक रूप से तैयार नहीं हैं। उधर, प्रधानाध्यापक ने चार्ज सौंपने से भी इनकार कर दिया। विभाग ने दोनों शिक्षकों को उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना का दोषी माना है। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी बीपी सिंह ने बताया है कि दोनों शिक्षकों को प्रतिकूल प्रविष्टि जारी की गई है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇