विद्यालय बंद कर गायब रहने वाली प्रधानाध्यापिका निलंबित

संतकबीरनगर। बघौली ब्लॉक के परिषदीय स्कूलों की हालत जिले में सबसे खराब है। यह रिपोर्ट जिला समन्वयकों के निरीक्षण में मिली है। तीन दिनों तक चले निरीक्षण में चार स्कूल बंद मिले हैं। 20 जून के निरीक्षण में प्राथमिक विद्यालय देवडीह बंद मिला था। इसके साथ ही अन्य कई लापरवाही मिली थी। डीसी की रिपोर्ट पर बीएसए ने प्रधानाध्यापिका को निलंबित कर दिया है, वहीं, एक सहायक अध्यापिका का वेतन रोकते हुए पूरे प्रकरण की जांच बीईओ खलीलाबाद को सौंपी है।

बीएसए दिनेश कुमार ने बताया कि 20 जून को डीसी समेकित शिक्षा रजनीश वैद्यनाथ ने बघौली ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय देवडीह का निरीक्षण किया था। विद्यालय नौ बजे बंद पाया गया था। इसके साथ ही विद्यालय की किसी दीवार पर यू डायस कोड अंकित नहीं था। दो रसोइया बाहर बैठी थीं। विद्यालय परिसर में कोई बच्चा उपस्थित नहीं था। इससे पूर्व भी डीसी के निरीक्षण में विद्यालय बंद पाया गया था। जो खेदजनक व लापरवाही दर्शाता है। डीसी की आख्या पर प्रधानाध्यापिका पूनम सिंह को निलंबित कर दिया गया है। पूरे प्रकरण की जांच बीईओ खलीलाबाद को सौंपी गई है। इसके साथ ही विद्यालय पर तैनात सहायक अध्यापिका डिंपल शाही भी अनुपस्थित थीं। उनका वेतन अग्रिम आदेश तक रोक दिया गया है। इसके साथ ही स्पष्टीकरण तलब किया गया है। उन्होंने बताया कि बघौली ब्लॉक के स्कूल लगातार बंद मिल रहे हैं। इसके पूर्व 16 जून के डीसी एमडीएम के निरीक्षण में भी तीन विद्यालय बंद मिले थे। जहां के सभी स्टाफ का वेतन पहले ही रोक दिया गया था

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇