बेसिक में तबादले से पहले सब्जेक्ट टीचरों की मैपिंग पूरी करने के निर्देश

सरकारी प्राइमरी स्कूलों में तबादले से पहले सब्जेक्ट टीचरों की मैपिंग की जाएगी ताकि एक ही स्कूल में एक विषय के दो शिक्षक तैनात न हो जाए। मानव संपदा पोर्टल पर यह मैपिंग जल्द पूरे करने के गुरुवार को निर्देश दिए हैं। वहीं शिक्षकों के कैडर को भी सही करने के निर्देश हैं।


बीते दिनों हुई बेसिक शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में सामने आया कि शिक्षकों का आनुपातिक तैनाती के लिए शिक्षकों की विषयवार मैपिंग जल्द पूरी होनी जरूरी है। सीतापुर, आजमगढ़, जौनपुर, प्रयागराज, गाजीपुर, सुल्तानपुर, उन्नाव, गोरखपुर, अलीगढ़, रायबरेली ऐसे जिले हैं जहां सब्जेक्ट मैपिंग का काम असंतोषजनक है। प्राइमरी स्कूलों में पढ़ा रहे शिक्षकों के जिले के अंदर तबादले व समायोजन होना है।


प्रोजेक्ट एप्रूवल बोर्ड (पीएबी)की बैठक में केन्द्र हर वर्ष यूपी में शिक्षकों के आनुपातिक तैनाती को लेकर ऐतराज जताता है।

आरटीई-2009 के मुताबिक कक्षा छह से आठ में विज्ञान व गणित का एक शिक्षक, सामाजिक अध्ययन का एक शिक्षक और भाषा के एक शिक्षक का होना अनिवार्य है।

लेकिन शहरों या कस्बों के समीप तैनाती के लालच में एक ही विषय के कई-कई शिक्षक एक ही स्कूल में तैनात रहते हैं और गांवों के स्कूलों के विज्ञान-गणित के शिक्षकों से खाली हैं।

पीएबी के मुताबिक 79 हजार शिक्षक यूपी में सरप्लस हैं,जबकि ये शिक्षक सरप्लस नहीं है बल्कि तैनाती नियमों के मुताबिक नहीं है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇