खण्ड शिक्षा अधिकारी अपनी ही निरीक्षण जाँच आख्या में फंसे, शिक्षकों समेत स्पष्टीकरण तलब


बलिया। बेरुआरबारी के खंड शिक्षा अधिकारी लोकेश मिश्रा अपनी ही निरीक्षण आख्या में फंस गये है। बीएसए शिवनारायण सिंह ने उनसे स्पष्टीकरण मांगा है। साथ ही अनुपस्थित शिक्षक व शिक्षामित्रों से भी स्पष्टीकरण मांगा है। मामले की जांच डीसी (एमडीएम) को सौंप दी है। विद्यालयों की एमडीएम पंजिका तथा छात्र उपस्थिति पंजिका का मिलान करके रिपोर्ट मांगी है।


खंड शिक्षा अधिकारी बेरूआरबारी ने 20 अप्रैल को प्राथमिक विद्यालय पीरकपुर अपायल, दत्तीवढ़, असेगा, सेमरी, उच्च प्राथमिक विद्यालय असेगा व छितरौली का निरीक्षण किया था। प्राथमिक विद्यालय पीरकपुर अपायल में प्रधानाध्यापक शशिभूषण सिंह व शिक्षामित्र सबिता सिंह, असेगा में सहायक अध्यापक अमित कुमार सिंह, शिक्षामित्र वृंदा सिंह व कृपाशंकर राम अनुपस्थित पाये गये थे। सहायक अध्यापक अमित कुमार सिंह 9.15 बजे विद्यालय पहुंच गये थे। प्रधानाध्यापक अभय नारायण साहनी शेयर की ट्रेडिंग कर रहे थे। स्कूल में 100 में 46 छात्र उपस्थित थे। एमडीएम पंजिका पर 9 अप्रैल से निरीक्षण तिथि तक विवरण नहीं दर्ज था। खंड शिक्षा अधिकारी बेरूआरबारी की निरीक्षण आख्या पर बीएसए ने आपत्ति जताई है क्योंकि खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा अपने निरीक्षण में स्कूल चलो अभियान के अंतर्गत नवीन प्रवेश के सम्बंध में उल्लेख नहीं किया गया है। निरीक्षण के समय सभी विद्यालयों में नामांकित छात्रों के सापेक्ष 50 प्रतिशत से कम छात्र संख्या होने के बावजूद खंड शिक्षा अधिकारी ने जांच आख्या में उल्लेख नहीं किया था।
primary ka master, primary ka master current news, primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇