शिक्षकों की कमी से शिक्षण कार्य प्रभावित


अमेठी,। अध्यापकों की कमी से प्राथमिक शिक्षा व्यवस्था चरमरा गई है। कहीं एक अध्यापक है तो कहीं एक भी अध्यापक नहीं है। दूसरे विद्यालय से अध्यापक बुलाकर विद्यालय संचालित किये जा रहे हैं।

अमेठी विकासखंड में प्राथमिक शिक्षा अध्यापकों की कमी के चलते प्रभावित हो रही है। विकासखंड के प्राथमिक विद्यालय पूरे पांडेय, बसुवापुर, सुंदरपुर, सराय राजशाह में मात्र एक-एक अध्यापक है। यहां शिक्षामित्र भी नहीं है। जिसके चलते अध्यापक छात्रों को एक स्थान पर बैठाकर शिक्षण कार्य करते हैं। ब्लॉक स्तरीय मीटिंग में शिक्षक के जाने पर विद्यालय बंद हो जाता है। इन विद्यालयों में शिक्षक को अवकाश लेने में असुविधा होती है।

शिक्षक विहीन है प्राथमिक विद्यालय भगनपुर :प्राथमिक विद्यालय भगनपुर की शिक्षिका ने बीते अप्रैल में अज्ञात कारणों से घर में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया था। तब से विद्यालय में कोई शिक्षक नहीं है। कुछ दिनों तक विद्यालय में ताला लगा रहा। उसके बाद सिंहपुर ब्लॉक के एक शिक्षक को इस विद्यालय से संबद्ध कर शिक्षण कार्य कराया जा रहा है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇