3122 स्कूलों में एक साथ गूंजा झंडा गीत, बीएसए ने किया सामूहिक गायन कार्यक्रम का शुभारंभ


लखीमपुर खीरी। जनपद के 3106 परिषदीय और 16 कस्तूरबा विद्यालयों में हर पर तिरंगा कार्यक्रम के अंतर्गत शनिवार को 'विजयी विश्व तिरंगा प्यारा झंडा ऊंचा रहे हमारा झंडा गीत एक साथ गूंजा कार्यक्रम में करीब साढ़े



तीन लाख बच्चों ने हिस्सा लिया। बीएसए डॉ. लक्ष्मीकांत पांडेय ने फूलबेहड़ ब्लॉक के संविलियन विद्यालय बन्नी से झंडा गीत के सामूहिक गायन कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इसके साथ ही समस्त 3106 परिषदीय विद्यालयों, 16 कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय के 3,54,119 बच्चों ने एक साथ झंडा गीत गायन में प्रतिभाग किया, जो कि अपने आप में रिकॉर्ड है। बच्चे विजयी विश्व तिरंगा गाकर देशभक्ति में सराबोर नजर आए।

संविलियन विद्यालय बन्नी में बीएसए डॉ. लक्ष्मीकांत पांडेय ने बच्चों को बताया कि ये आजादी कैसे और कितने संघर्षों के पश्चात प्राप्त हुई। उन्होंने बताया कि भारत के झंडा गीत या ध्वज गीत की रचना श्यामलाल गुप्त 'पार्षद' ने की थी, जिसे बाद में ध्वजगीत' के रूप में मान्यता मिली। यह गीत न केवल राष्ट्रीय गीत घोषित हुआ, बल्कि अनेक नौजवानों और नवयुवतियों के लिये देश पर मर मिटने के लिए प्रेरणा का स्रोत भी बना इसके बाद बीएसए ने बच्चों के साथ बैठकर भोजन मंत्र का पाठ करके भोजन किया। विशेष भोजन में बच्चों को हलवा परोसा गया। बीएसए ने विद्यालय में आम्रपाली का पौधारोपण किया। इसके बाद बच्चों के साथ सेल्फी भी खिंचवाई और बच्चों की कक्षा में जाकर बच्चों की पढ़ाई लिखाई का हाल जाना। कार्यक्रम में एआरपी अमित शुक्ला, कामनाथ चौधरी, प्रधानाध्यापिका रिचा सक्सेना समेत विद्यालय प्रबंध समिति के सदस्य और अभिभावकों ने भी प्रतिभाग किया।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇