विधायक जी भूल गए झंडे का सम्मान, किसी ने उल्टा पकड़ा, किसी का जमीन से छूता दिखा


स्वतंत्रता के 75वें वर्षगांठ पर सोमवार को देशभर में आजादी का अमृत महोत्सव मनाया गया। इस दौरान कहीं विधायक उल्टा तिरंगा लेकर तिरंगा यात्रा निकालते दिखे। तो कहीं पढ़े-लिखे लोग तिरंगे का अपमान करते दिखे। बदायूं के सहसवान तहसील क्षेत्र में बुलडोजर पर निकाली गई तिरंगा यात्रा में भी एक शख्स उल्टा तिरंगा लेकर बुलडोजर पर खड़ा दिखाई दिया।

भाजपा अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष हाजी सलीम के नेतृत्व में तिरंगा यात्रा निकाली गई थी। जहां रैली में उन्होंने उल्टा तिरंगा लहराया। सदर विधायक महेश चंद्र गुप्ता ने पैदल तिरंगा यात्रा निकाली इस दौरान उनके साथ सतीश मिश्रा का झंडा जमीन से छूता रहा। बिल्सी से बीजेपी विधायक हरीश शाक्य तिरंगा यात्रा में उलटा तिरंगा लहराते हुए बाइक पर घूमे। बदायूं क्लब में भारत का नक्शा फर्श पर बनाया गया है। वहीं इस नक्शे पर जूते पहनकर तिरंगा लहराते हुए पदाधिकारी सेल्फी लेते हुए दिखे।

खाली खंबे की कर दी पूजा

उसहैत में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 100 फीट ऊंचे तिरंगे का लोकार्पण के मौके पर मौजूद केंद्रीय सहकारिता एवं पूर्वोत्तर विकास राज्यमंत्री बीएल वर्मा, आंवला सांसद धर्मेंद्र कश्यप समेत कई अन्य नेताओं ने बिना तिरंगे के खड़े किए गए खंबे का ही पूजन कर दिया। हुआ यूं कि जैसे ही नेतागण 100 फीट ऊंचे तिरंगे का पूजन करने पहुंचे उसी समय तिरंगे की डोरी टूट गई और तिरंगा नीचे आ गिरा। अचानक हुए इस घटनाक्रम के बाद भी राज्यमंत्री और सांसद ने खाली खंबे का पूजन कर डाला।

भाजपा ने दी सफाई

भाजपा के मीडिया प्रभारी आशीष शाक्य का कहना है कि मानवीय भूलवश ऐसा हुआ है। किसी ने जान बूझकर ऐसा नहीं किया। बिल्सी विधायक को किसी ने भीड़भाड़ में सेल्फी लेने के लिहाज से झंडा दे दिया था। सदर विधायक वाली रैली में भी उन्हें झंडा जमीन से टच होने का ध्यान नहीं रहा।


UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇