बेसिक शिक्षा विभाग: फर्जी प्रमाण-पत्र लगातार नौकरी कर रहें थे गुरुजी,15 साल से ले रहें थे तनख्वाह,जेल


 बेसिक शिक्षा विभाग: फर्जी प्रमाण-पत्र लगातार नौकरी कर रहें थे गुरुजी,15 साल से ले रहें थे तनख्वाह,जेल 

औरेया: अछ्ल्दा में बेसिक शिक्षा विभाग Basic shiksha vibhag में शिक्षकों teachers की तैनाती से पहले बरती गई लापरवाही का एक मामला सामने आया है। उच्चतर प्राथमिक विद्यालय गौतला में फर्जी दस्तावेजों Documents पर शिक्षक Teacher बने आरोपित को पुलिस ने हिरासत में लिया। तत्कालीन खंड शिक्षा अधिकारी BIO राजेश सिंह चौहान ने 15 मई 2021 में गांव कनमऊ थाना दिबियापुर निवासी सहायक शिक्षक Teacher विनोद कुमार पुत्र रामबाबू राठौर के खिलाफ कई धाराओं में मुकद्दमा दर्ज कराया था। तफ्तीश कर रही पुलिस को स्नातक की डिग्री में गड़बड़झाला मिला। अछ्ल्दा थाना उप निरीक्षक हरिकेश कुमार ने बताया कि आरोपित शिक्षक के शैक्षिक योग्यता के अंकपत्र व प्रमाणपत्रों Documents की जांच की गई। यह कवायद तकरीबन 11 माह चली। निचली गंग नहर गांव कमारा पुल के पास से आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया।



वर्ष 2006 भर्ती के तहत शिक्षक Teacher की तैनाती है। बिधूना ब्लाक से वर्ष 2011 में स्थानांतरित transfer होकर अछल्दा ब्लाक के गौतला प्राथमिक विद्यालय prathmik vidyalaya में तैनाती हुई थी। थानाध्यक्ष राकेश कुमार शर्मा ने बताया है कि जांच में काफी समय लगा। आरोपित करीब 15 वर्ष से फर्जी अभिलेखों fake documents के आधार पर नौकरी job's कर रहा था। कोर्ट Court से जेल भेजने की कार्रवाई हुई है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇