ग्रामीणों ने खोल दी गुरू जी पोल, कहा देर से आते हैं शिक्षक

कुलपहाड़ (महोबा)। परिषदीय विद्यालय में अध्यापकों के समय से न आने की शिकायतें मिलने पर एसडीएम कुलपहाड़ श्वेता पांडे ने कंपोजिट विद्यालय गढ़ी सुगिरा का निरीक्षण किया। यहां कुछ शिक्षकों के समय से विद्यालय न पहुंचने की शिकायत अभिभावकों ने की। बच्चों की संख्या भी कम रही। एसडीएम ने बच्चों को कक्षा में पढ़ाया और उनसे सवाल भी पूछे।


परिषदीय विद्यालयों में अध्यापकों के देर से आने की शिकायत एसडीएम को लगातार मिल रही थी। इस कारण बच्चों की संख्या भी लगातार कम हो रही है। इस पर मंगलवार की सुबह 8:30 बजे एसडीएम कंपोजिट विद्यालय पहुंची। यहां प्रधानाध्यापक सहित सभी अध्यापक उपस्थित पाए गए। बच्चों से जानकारी लेने पर उन्होंने बताया कि कुछ अध्यापक और अनुदेशक समय से नहीं आते हैं।

इस पर एसडीएम ने नाराजगी जताई। उन्होंने प्रधानाध्यापक अरुणेंद्र अग्निहोत्री को ऐसे अध्यापकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा। स्मार्ट क्लास में जाकर उप जिलाधिकारी ने बच्चों को पढ़ाया और उनकी जानकारी ली। छात्र शिवा ने उनसे उनके छात्र जीवन के बारे में पूछा तो उन्होंने बच्चों को ईमानदारी और लगन के साथ अनुशासित रहने को कहा और मन लगाकर पढ़ने की नसीहत दी। विद्यालय में खाना बनाने वाली 9 रसोईया उपस्थित मिली।
शौचालयों में मिली गंदगी
- एसडीएम को निरीक्षण के दौरान शौचालयों में गंदगी मिली जिस पर उन्होंने नाराजगी जताई। प्रधानाध्यापक ने बताया कि गांव में 3 सफाई कर्मी नियुक्त है लेकिन उनमें से कोई भी गांव में सफाई करने नहीं आता है। रसोईया ही विद्यालय की सफाई करती हैं लेकिन शौचालय की सफाई प्राइवेट कर्मी से कराई जाती है। उप जिलाधिकारी ने सभी अध्यापकों को समय से आने और शिक्षा की गुणवत्ता बनाए रखने का निर्देश दिया।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇