ग्राम प्रधान ने बदल दी विद्यालय की तस्वीर , देखें


बखिरा।

विकास खंड बघौली के प्राथमिक विद्यालय डिहुलिया जीर्ण शीर्ण अवस्था में पहुंच गया था। शासन द्वारा चलाए जा रहे सरकारी भवनों के लिए कायाकल्प योजना के तहत ग्राम प्रधान की मेहनत रंग ले आई । स्कूल के जर्जर हो चुके भवन के कायाकल्प का कार्य शुरू कराया। जिसमे स्कूल की बाउन्ड्री,विद्युतीकरण,पंखा साफ-सुथरे शौचालय के अलावा हर कमरे की रंगाई – पुताई के अलावा टाइल्स लगवाया गया।

बघौली विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय डिहुलिया क्षेत्र के लोगों के लिए नजीर बन गया है। ग्राम प्रधान ने चौदहवें,राज्य वित्त व मनरेगा के मद से स्कूल पर विकास कार्य करवाया। अपने जुनून जज्बे से न सिर्फ स्कूल को हाईटेक किया बल्कि कमरों का विद्युतीकरण,रंगाई -पुताई, टाइल्स के साथ दीवालों पर पेंटिंग व कार्टून बनाने का कार्य किया। साफ सुथरा शौचालय के साथ वाटर सप्लाई की व्यवस्था दिया गया। वर्तमान में विद्यालय में कुल 70 छात्र हैं । वहीं इन्हे पढ़ाने के लिए दो शिक्षक नियुक्त हैं। स्कूल का निरीक्षण कर अधिकारियों ने यहां की व्यवस्था देखकर ग्राम प्रधान को शाबासी दिया है।




प्राथमिक विद्यालय के कायाकल्प के बाद में बच्चों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। ग्राम प्रधान मनोज चौधरी ने बताया जल्द ही स्वयं के संसाधन से स्वच्छ पानी के लिए आरओ प्लान्ट व क्लासरूम में अच्छी पढाई के लिए प्रोजेक्टर लगाया जाएगा। इसके साथ ही स्कूल को हाईटेक बनाने के लिए यहां पर सीसीटीवी कैमरे के अलावा वाई फाई की सुविधा जल्द ही मुहैया करा दी जाएगी।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇