‘आधार को मतदाता सूची से जोड़ने के नियम जल्द संभव’

पूर्व मुख्य निर्वाचन आयुक्त (सीईसी) सुशील चंद्र ने शनिवार को कहा कि सरकार आधार कार्ड को मतदाता सूची से जोड़ने के नियम जल्द जारी कर सकती है। मतदाताओं के लिए आधार की जानकारियां साझा करना स्वैच्छिक होगा, लेकिन ऐसा न करने वालों को ‘पर्याप्त वजहें’ बतानी होंगी। चंद्रा शनिवार शाम सेवानिवृत्त हो गए।





इससे पहले एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने उन पांच राज्यों में टीकाकरण अभियान में तेजी लाने में अहम भूमिका निभाई, जहां इस साल मार्च में विधानसभा चुनाव हुए हैं। ऐसा इसलिए किया गया ताकि मतदाता और चुनाव ड्यूटी में शामिल लोग वायरस से सुरक्षित रहें। उन्होंने कहा कि बतौर सीईसी उनके कार्यकाल में जो दो प्रमुख चुनावी सुधार हुए, उनमें 18 साल की आयु वाले मतदाताओं को पंजीकरण कराने के लिए एक के बजाय साल में चार तारीख उपलब्ध कराने का प्रविधान और मतदाता सूची में नकली प्रविष्टियों पर लगाम लगाने के लिए आधार को मतदाता सूची से जोड़ना शामिल है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇