जूते-मोजे उतारने को कहा तो शिक्षकों से भिड़े परीक्षार्थी


16 परीक्षार्थियों ने छोड़ी एलएलबी परीक्षा

संभल। एमजीएम कालेज परीक्षा केंद्र पर संभल लॉ कालेज संभल के एक सौ अट्ठाईस और एसएम लॉ कालेज चन्दौसी के तीन सौ उनासी परीक्षार्थियों को परीक्षा देनी थी। केंद्र के डा.दिलदार हुसैन ने बताया कि चार सौ इक्यानवे परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। जबकि सोलह परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे। अब सत्रह मई को परीक्षा होनी है। परीक्षा केंद्रों से बाहर परीक्षार्थियों के चेहरे खिले नजर आए। परीक्षार्थियों ने आपस में परीक्षा को लेकर चर्चा भी की।


संभल । संभल में एमजीएम कालेज परीक्षा केंद्र पर शनिवार को सुबह उस समय हंगामा खड़ा हो गया जब शिक्षकों ने एलएलबी की परीक्षा देने पहुंचे परीक्षार्थियों से जूते और मोजे उतारने के लिए कहा। परीक्षार्थियों ने जूते मौजे उतारने से इंकार कर दिया। हंगामे के बीच परीक्षार्थियों और शिक्षकों में तीखी नोकझोंक हुई। हंगामा बढ़ने पर नोडल अधिकारी और पुलिस फोर्स केंद्र पर पहुंची। नोडल अधिकारी के समझाने पर परीक्षार्थी जूते मोजे उतारकर परीक्षा में शामिल हुए। यहां पंजीकृत पांच सौ सात में से चार सौ इक्यानवे परीक्षार्थियों परीक्षा दी जबकि सोलह परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे।

एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय की एलएलबी परीक्षा के लिए संभल के एमजीएम कालेज को केंद्र बनाया गया है। यहां संभल लॉ कालेज संभल और एसएम लॉ कॉलेज चंदौसी के पांच सौ सात परीक्षार्थियों को एलएलबी की परीक्षा देनी है। शनिवार को सुबह से ही परीक्षार्थी एमजीएम कालेज केंद्र पर जुटने लगे। केंद्र के बाहर मौजूद शिक्षकों ने तलाशी लेने के बाद परीक्षार्थियों को प्रवेश देना शुरू किया। कुछ परीक्षार्थी जूते और मोजे पहने हुए दिखाई दिए। तब शिक्षकों ने कहा कि जूते मोजे उतारने के बाद ही केंद्र में प्रवेश दिया जाएगा। इसी बात को लेकर परीक्षार्थी भड़क गए और हंगामा करने लगे। चंदौसी से छात्र सभा के अध्यक्ष अनुज यादव समेत कई परीक्षार्थियों की शिक्षकों से तीखी नोकझोंक हुई। शिक्षकों ने साफ कहा कि केंद्र पर निष्पक्ष और नकलविहीन परीक्षा कराई जाएगी। इसलिए नियमों का पालन हर हाल में कराएंगे। उस वक्त परीक्षा केंद्र पर सिर्फ दो होमगार्ड ही मौजूद थे। हंगामा बढ़ता देखकर शिक्षकों ने अधिकारियों को सूचना दी।

परीक्षा केंद्र पर परीक्षार्थियों के हंगामे की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। परीक्षा के नोडल अधिकारी रमेश बाबू और पुलिस बल केंद्र पर पहुंचा। नोडल अधिकारी ने परीक्षार्थियों से बात की और उन्हें समझाया। करीब पौन घंटे तक केंद्र पर हंगामे के हालात बने रहे।

बाद में परीक्षार्थियों ने जूते मोजे उतारने के बाद ही परीक्षा देने के लिए केंद्र में प्रवेश किया। केंद्र पर कड़ी निगरानी और सुरक्षा के बीच परीक्षा हुई।

.

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇