शासन के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हैं शिक्षक, टाइम से स्कूल नहीं पहुंचते शिक्षक, गेट न खुलने से घंटों बाहर खड़े रहते हैं बच्चे

देवरिया के प्रतापपुर-रामपुर बुजुर्ग मुख्य मार्ग पर स्थित प्राथमिक स्कूल रतसिया में 8 बजकर 20 मिनट तक कोई शिक्षक मौजूद नहीं रहता है। सबसे पहले एक छात्रा वर्तिका आई और गेट बंद होने पर वहीं खड़ी हो कर गेट खुलने का इंतजार करने लगी। फिर छात्र शुभम आया वो भी स्कूल खुलने के इंतजार में गेट पर ही खड़ा रहा। दोनों बच्चों ने बताया कि शिक्षक रोज देर से आते हैं। हम लोग समय से आकर भी स्कूल के अंदर नहीं जा पाते हैं।



शिक्षा मित्र समेत चार शिक्षक हैं तैनात
जिले के बनकटा विकास खंड के प्राथमिक स्कूल रतसिया में शिक्षा मित्र समेत चार शिक्षक तैनात हैं। कोई भी सही समय से स्कूल में नहीं आता है। जबकि शिक्षा मित्र विनय कुमार सिंह इसी गांव के हैं। वह भी अनुपस्थित थे। रणवीर यादव प्रभारी,आशुतोष सिंह सहायक अध्यापक और नवीन कुमार सिंह सहायक अध्यापक अनुपस्थित रहे।

बाइक खराब होने से प्रभारी प्रधानाध्यापक को हुई देर
प्रभारी प्रधानाध्यापक रणवीर यादव ने बताया कि आज बाइक पंक्चर हो गई थी इसलिए आने में देर हो गई। बताया कि शिक्षा मित्र तो गांव के हैं। लेकिन उन्हें आने में देर क्यों हुई इसका उनके पास कोई जवाब नहीं था।

शिक्षकों पर नहीं होती कार्रवाई
देर से आने वाले शिक्षकों की बड़ी तादाद है। विद्यालय न आने या विलंब से आने वाले शिक्षकों पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इससे विभागीय गठजोड़ का पता चलता है।

जिला स्तर से सूचना मिलने पर होगी कार्रवाई
बनकटा के खंड शिक्षा अधिकारी सोनू कुमार ने विद्यालय समय से न खुलने के बाबत कहा कि य़ह बहुत गलत बात है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी। पिछले प्रकरणों में कितनी कार्रवाई हुई पूछने पर कहा कि जिले पर सूचना दी गई है। निर्देश मिलने पर कार्रवाई होगी।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇