25 दिन बाद खुले स्कूल, 15 फीसदी रही उपस्थिति

(अमेठी)। ग्रीष्म कालीन अवकाश समाप्त होने के बाद गुरुवार को जिले में संचालित 1570 परिषदीय स्कूल में शिक्षण शुरू हुआ। 25 दिन बाद प्राथमिक स्कूलों में पंजीकृत 2.06 लाख नौनिहालों में पहले दिन करीब 32 हजार ही स्कूल पहुंचे। स्कूल पहुंचे बच्चों का प्रवेश द्वार पर शिक्षकों ने तिलक लगाकर स्वागत किया गया।


जिले में कक्षा एक से आठ तक के विद्यार्थियों को शिक्षित करने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से जिले में 1139 प्राथमिक, 234 उच्च प्राथमिक स्कूल, 197 कंपोजिट स्कूल संचालित किए जाते हैं। शैक्षिक सत्र 2021-22 की वार्षिक परीक्षा के बाद प्रवेश लेकर एक अप्रैल से 19 मई तक शिक्षण कार्य करने के बाद सभी परिषदीय स्कूल 20 मई से 15 जून तक ग्रीष्म कालीन अवकाश के तहत बंद हो गए थे।

पहले दिन स्कूल पहुंचने के बाद बच्चे अपने सहपाठियों से मिले तो उनके चेहरे खिल गए। स्कूल के मुख्यद्वार पर शिक्षकों ने बच्चों का तिलक लगाकर स्वागत किया। शिक्षकों ने बच्चों को पढ़ाई के साथ योगा क्रिया कराने के बाद होमवर्क देने के साथ खेलकूद का भी मौका दिया गया। इतना ही नहीं मध्यान्ह भोजन योजना के तहत बच्चों को मेन्यू के अनुसार दोपहर के भोजन में मौसमी सब्जी व रोटी दी गई।
स्कूल की व्यवस्था का निरीक्षण करने के लिए बीएसए डॉ. अरविंद कुमार पाठक व सभी ब्लॉकों के बीईओ पूरे दिन स्कूलों का भ्रमण करते रहे। बीएसए ने बताया कि स्कूलों में शैक्षिक पंचांग के अनुसार शिक्षण कार्य शुरू किया गया है।
गौरीगंज में विकास भवन के पास स्थित प्राथमिक विद्यालय में नामांकित 25 छात्रों के सापेक्ष उपस्थिति शून्य रही है। प्रधानाध्यापक वीर राज सिंह, शिक्षिका श्रुति सिंह व रीता देवी विद्यालय के अभिलेखों को दुरुस्त करते दिखे। वहीं कम्पोजिट विद्यालय पचेहरी में उपस्थित 45 बच्चेे शिक्षण कार्य करते दिखे। प्रधानाध्यापक रमाशंकर यादव के नेतृत्व में शिक्षिका सुप्रिया सिंह, बब्बी पाल, वंदना सिंह, सिद्धार्थ बच्चों के अभिभावक को विद्यालय खुलने की सूचना देने में लगे रहे।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇