Basic Shiksha News: ड्रेस न खरीदने पर शिक्षकों के बजाय अभिभावकों की तय हो जिम्मेदारी

Sonebhadra: उत्तर प्रदेश प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जिला इकाई का प्रतिनिधिमंडल मंगलवार को बीएसए से मिला। पांच सूत्री ज्ञापन सौंपते हुए शिक्षकों से जुड़ी सभी समस्याओं का शीघ्र समाधान कराने की मांग की।


प्रतिनिधिमंडल ने निदेशालय की ओर से जारी नए निर्देशों पर कड़ी आपत्ति जताई। उनका कहना था कि काफी संख्या में अभिभावकों ने भुगतान होने के बावजूद बच्चों का ड्रेस नहीं खरीदा है। ऐसे में विभाग की ओर से शिक्षकों की जिम्मेदारी तय करने की बात कही जा रही है। इससे शिक्षक मानसिक रूप से दबाव में जी रहे हैं। ड्रेस मामले में शिक्षकों के बजाय अभिभावकों की जिम्मेदारी तय की जानी चाहिए। जिले में ब्लॉक स्थानांतरण व गैर जनपद स्थानांतरण करने का भी मुद्दा उठाया। परिषदीय विद्यालयों में सहायक अध्यापक के रूप में पांच वर्ष सेवा दे चुके अध्यापकों को प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापक के पद पर पदोन्नत करने की मांग की। इस मौके पर इन्दु सिंह, वृजबाला, साधना सारंग, ददन सिंह, कृष्णकांत, राज मौर्या, यसपाल, रमेश, अमित, धमेंद्र सिंह, राज बहादुर, राजप्रताप सहित अन्य मौजूद रहे।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇