शिक्षकों के तबादलों की काउंसलिंग आज से


बलरामपुर, संवाददाता। 68500 शिक्षक भर्ती के तहत जिले के परिषदीय विद्यालयों में तैनात अध्यापकों को मूल जिले में स्थानांतरण का रास्ता साफ हो गया है। हाई कोर्ट के निर्देश पर सात से नौ जून तक बेसिक शिक्षा कार्यालय कैंपस में शिक्षकों की काउंसलिंग कराई जाएगी। उच्च मेरिट के आधार पर काउंसलिंग होना तय हुआ है। काउंसलिंग के बाद 23 जून को अहर्ता सूची जारी की जाएगी, जिसके बाद 25 जून को पात्र अध्यापकों को गृह जिला के लिए


कार्य मुक्त कर दिया जाएगा। 68500 शिक्षक भर्ती के तहत उच्च मेरिट पाने वाले अध्यापकों को घर जाने का रास्ता साफ हो गया है। प्रदेश में करीब 2900 अध्यापकों में जिले से करीब 200 शिक्षकों का मूल जिले में स्थानांतरण होना है। इस संबंध में अध्यापकों ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर रखी थी। हाई कोर्ट ने सुनवाई करते हुए प्रदेश सरकार को उच्च मेरिट पाने वाले शिक्षकों को उनके मूल जिले में तैनाती करने का आदेश दिया है। हाईकोर्ट के निर्देश पर निदेशालय ने बेसिक शिक्षाधिकारी को निर्देशित किया है कि सात से नौ जून के बीच तीन दिन तक काउंसलिंग कराई जाए। इसके बाद 10 से 15 जून तक अभिलेखों का सत्यापन किया जाए। सत्यापन के बाद 23 जून को अहर्ता •सूची कर 25 शिक्षकों सूची डाजिले में स्थानांतरण के लिए कार्यमुक्त कर दिया जाए।

बीईओ व पटल सहायक करेंगे अभिलेखों की जांच: काउंसलिंग के • लिए खंड शिक्षाधिकारी व पटल सहायक को मिली जिम्मेदारी । उच्च न्यायालय के निर्देश पर सात से नौ जून तक तीन दिवसीय काउंसलिंग में अध्यापकों के अभिलेखों की जांच के लिए तीन खंड शिक्षाधिकारी एवं छह पटल सहायक को जिम्मेदारी दी गई है। इनमें खंड शिक्षाधिकारी सतीश कुमार, पटल सहायक अमित •श्रीवास्तव व अनुराग शर्मा को बलरामपुर, शिवपुरा व श्रीदत्तगंज के अध्यापकों की काउंसलिंग करानी है।

 शासन के निर्देश पर कैंपस में सात से नौ जून तक शिक्षकों के अंतर्जनपदीय स्थानांतरण को लेकर काउंसलिंग कराया जाना है। जिसकी सारी तैयारी पूरी कर ली गई है। काउंसलिंग में किसी तरह की असुविधा न हो इसके लिए खंड शिक्षाधिकारी, युवा पटल सहायकों को अलग-अलग काउंटर बनाने का निर्देश दिया गया है।

डॉ. रामचंद्र बीएसए, बलरामपुर

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇