12 साल से फर्जी प्रमाणपत्र पर नौकरी करने वाला परिषदीय शिक्षक नामजद


बस्ती। अयोध्या के मिल्कीपुर ब्लॉक के तैनात पूर्व माध्यमिक विद्यालय में तैनात अध्यापक के प्रमाणपत्रों के सहारे 12 वर्ष से बेसिक शिक्षा विभाग में सहायक अध्यापक की नौकरी करने वाले शख्स पर मुंडेरवा पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। एसटीएफ की जांच में फर्जीवाड़ा का पर्दाफाश होने के बाद बीएसए ने राजेश कुमार को बर्खास्त कर खंड शिक्षा अधिकारी गौर को वेतन रिकवरी और मुकदमा दर्ज कराने का आदेश दिया था। बीईओ सीपी प्रसाद की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

बीएसए कार्यालय के अनुसार वर्ष 2010 में जिले के सांऊघाट ब्लॉक के परिषदीय कंपोजिट विद्यालय खझौला में राजेश कुमार का सहायक अध्यापक पद पर चयन हुआ था। एसटीएफ स्तर से कराई गई जांच में पाया गया कि राजेश कुमार ने अयोध्या जनपद में मिल्कीपुर ब्लॉक के पूर्व माध्यमिक विद्यालय नरेन्द्र भदा में कार्यरत इसी नाम के शिक्षक का अभिलेख इस्तेमाल करके नौकरी हासिल की है। जांच रिपोर्ट में फर्जीवाड़े की पुष्टि होने के बाद बीएसए जगदीश शुक्ल ने सांऊघाट ब्लॉक के कंपोजिट विद्यालय खझौला में सहायक अध्यापक पद पर कार्यरत राजेश कुमार को नोटिस देकर अपना पक्ष रखने का नोटिस जारी किया था। संतोषजनक जवाब के अभाव में बीएसए ने उसे बर्खास्त कर दिया। बीएसए कार्यालय के मुताबिक अभिलेख में फर्जी शिक्षक ने अपना पता संतकबीरनगर जिले के महुली थानांतर्गत जमीरा सतहरा दर्ज किया है।
primary ka master, primary ka master current news, primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇