दूसरे के स्थान पर नौकरी करने वाला शिक्षक पर एफ आई आर दर्ज कर सैलरी की होगी रिकवरी



 प्राथमिक विद्यालय कागजीपुर में दूसरे के स्थान पर कर रहा था नौकरी



सैलरी की रिकवरी के लिए बीएसए ने वित्त लेखाधिकारी को भेजा पत्र

गाजीपुर,






कासिमाबाद शिक्षा खंड के उच्च प्राथमिक विद्यालय कागजीपुर में सहायक अध्यापक फर्जी तरीके से नौकरी करते हुए पकड़ा गया है। यह दूसरे के स्थान पर वर्ष 2006 से शिक्षक की नौकरी कर रहा था। अब विभाग की ओर से इस पर कार्रवाई शुरू कर दी गयी है।



बेसिक शिक्षा विभाग में शिक्षक के खिलाफ शिकायत मिली थी। जिलाधिकारी एमपी सिंह ने एडीएम अरुण कुमार सिंह, एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी और बीएसए हेमंत राव को जांच जिम्मा सौंपा। समिति ने जांच में पाया कि रामनवल यादव नाम का व्यक्ति अनिल कुमार गोंड बनकर साल 2006 से नौकरी कर रहा था। बेसिक शिक्षा अधिकारी हेमंत राव ने बताया कि फर्जी शिक्षक रामनवल पर एफआईआर कराने के बीईओ को निर्देशित किया गया है। इसके साथ ही विभाग रामनवल की फर्जी तरीके से हासिल परिषदीय विद्यालय के शिक्षक की नौकरी को समाप्त करने के साथ ही अब तक वेतन के रूप में दिए गए सैलरी की रिकवरी से जुड़ी प्रक्रिया भी शुरू कर दी गयी है। अब तक मिले सैलरी की रिकवरी करायी जाएगी। विभाग की ओर से शिक्षकों की गोपनीय तरीके से जांच करायी जा रही है। जनपद में फर्जी शिक्षकों की खैर नहीं है। सभी शिक्षकों के दस्तावेज सहित अन्य बिंदुओं पर भी जांच करने के लिए टीम गठित की गयी है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇