प्राथमिक स्कूल में हुए घपले में होगी बीईओ की जांच, जाने पूरा मामला


 

मुरादाबाद शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा किए जाने वाले निरीक्षण की वास्तविकता कुंदरकी के प्राथमिक विद्यालय पीतपुर खेड़ा में कमरे का मलबा बेचने की बात सामने आई है। खंड शिक्षा अधिकारियों को हर महीने 40 निरीक्षण करने होते हैं, लेकिन विद्यालय की वास्तविकता से वह अनजान रहे। वहीं, बीएसए के एक निरीक्षण में 48 हजार रुपये का घपला सामने आ गया। बीएसए के अनुसार इस मामले में खंड शिक्षा अधिकारी की भूमिका की भी जांच करवाई जाएगी।




कुंदरकी विकास खंड के गांव पीतपुर नैयाखेड़ा के प्राथमिक विद्यालय के एक कमरे का मलबा अध्यापक मुजाहिद हुसैन ने 30 हजार रुपये में क्षेत्र के एक व्यक्ति को बेच दिया था। ग्राम प्रधान की शिकायत पर खंड शिक्षा अधिकारी ने इसकी जानकारी बीएसए को दी।





इससे पहले लगातार तीन वर्ष तक 16- 16 हजार रुपये (कुल 48 हजार रुपये) मुजाहिद हुसैन ने रंगाई-पुताई के लिए विद्यालय प्रबंध समिति के खाते से निकाले थे। इस मामले की खंड शिक्षा अधिकारी को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी बुद्धप्रिय सिंह निरीक्षण पर पहुंचे तो विद्यालय में रंगाई पुताई न देखकर उन्होंने डिटेल निकलवाई तो वह चौंक गए।



बुद्धप्रिय सिंह के अनुसार मुजाहिद हुसैन ने 48 हजार रुपये निकाले हैं कमरा का मलबा बेचने और 48 हजार रुपये निकालने के मामले को एक साथ कर इसकी रिपोर्ट बनवाई जा रही है। इसके लिए जिला समन्वयक निर्माण और खंड शिक्षा अधिकारी मुख्यालय को जांच करने के भनक तक नहीं लगी। 27 जुलाई को जब निर्देश दिए हैं।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇