DM व BSA के निरीक्षण में पढ़ाई में कमजोर मिले बच्चे, अध्यापिकाओं से जताई नाराजगी


बदायूं। उझानी। डीएम दीपा रंजन और बीएसए डॉ. महेंद्र प्रताप सिंह ने ब्लॉक उझानी में कस्तूरबा आवासीय विद्यालय व ग्राम लऊआ के प्राथमिक विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। डीएम ने कस्तूरबा विद्यालय में बच्चों से पहाड़े पूछे और किताबें पढ़वाकर देखीं तो पाया कि वे पढ़ने में कमजोर हैं। इसे देख डीएम ने अध्यापिकाओं पर नाराजगी जताई और खुद कुछ देर बच्चों को पढ़ाया।





डीएम को प्राथमिक विद्यालयों के बच्चे शिक्षा में अच्छे मिले। उन्होंने पहाड़े भी सुनाए और हिंदी व अंग्रेजी की किताबें भी अच्छे ढंग से पढ़कर सुनाई। डीएम ने अध्यापिकाओं को निर्देश दिए कि अध्यापिकाओं से नाराजगी जताई, ज्यादा ध्यान देने के लिए कहाबच्चों की कमजोरियों को समझाएं। जिन विषयों में बच्चे ज्यादा कमजोर हैं उन विषयों पर ज्यादा मेहनत की जाए। जो भी पढ़ाएं उसके बारे में बच्चों से अवश्य पूछें कि उन्होंने कितना सीखा। बच्चों के अंदर सीखने की बहुत क्षमता होती है। बच्चों को प्रेरित करने के लिए उन्हें आप महान हस्तियों की जीवनियां और शिक्षा देने वाली कहानियां सुनाएं। छोटे बच्चे का मानसिक स्तर इतना नहीं होता कि वह हर बात को एक बार समझाने पर ही समझ जाए। इसलिए उन्हें समझ न आने पर धैर्य रखते हुए उन्हें समझाते रहना है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇