152 स्कूलों में 32 शिक्षक गैरहाजिर मिले, रोका वेतन

बिजनौर। जिलाधिकारी उमेश मिश्रा एवं अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने शनिवार को 152 परिषदीय प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में निरीक्षण किया। डीएम ने निरीक्षण के दौरान मिशन कायाकल्प के तहत स्कूल में कार्य न कराएं जाने तथा मुआयने के दौरान सूचना के बावजूद अनुपस्थित रहने पर ग्राम भोजपुर के ग्राम प्रधान का स्पष्टीकरण तलब करने के दिए निर्देश डीएम उमेश मिश्रा के निरीक्षण में नजीबाबाद शहर के कंपोजिट विद्यालय में ताला बंद पाया गया। डीएम के निर्देश पर बीएसए जयकरन यादव ने प्रधानाध्यापक को निलंबित कर दिया गया और दो शिक्षकों का एक दिन का वेतन रोका है। इसके अलावा गैर हाजिर मिले 31 शिक्षकों का एक दिन का वेतन भी रोक दिया गया। 




डीएम ने ब्लॉक किरतपुर के ग्राम भोजपुर स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया कहा कि शासन की स्पष्ट मंशा है कि स्कूलों में मूलभूत सुविधाएं, शिक्षण पद्धति एवं शिक्षा की गुणवत्ता में अपेक्षित सुधार लाया जाए। सरकारी स्कूलों का स्तर इंग्लिश मीडियम स्कूलों से भी बेहतर हो।

उन्होंने कहा कि शासन ने कायाकल्प योजना के जरिए सभी स्कूलों में रंगाई-पुताई सुंदरीकरण एवं उनमें सभी आवश्यक सामग्री उपलब्ध कराई गई है। निरीक्षण के दौरान कार्यरत शिक्षिका आकांक्षा चौधरी ने साईस लेख एवं पुस्तकालय की स्थापना किए जाने पर उनके उत्कृष्ट कार्य की सराहना एवं प्रशंसा की।

बीएसए को निर्देश दिए कि आकांक्षा चौधरी को उनकी ओर से प्रशस्ति पत्र उपलब्ध कराएं। डीएम व एसपी ने बच्चों से पहाड़े सुने गए और देश एवं प्रदेश की राजधानी, देश के प्रधानमंत्री एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम पूछे जाने पर बच्चों द्वारा सही उत्तर दिए गए। साथ की छात्र-छात्राओं को यूनिफार्म के साथ आने के लिए अध्यापकों को दिए निर्देश एक सप्ताह के अंदर सभी ऐसे सभी छात्र-छात्राओं के खातों में धनराशि भेजने के निर्देश दिए जिनके अभी तक नही गए है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇