यूजीसी नेट में पहले दिन ही सर्वर धड़ाम, हंगामा


नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की ओर से यूजीसी नेट परीक्षा शनिवार को आयोजित की गई। पहले दिन ही नैनी स्थित एक निजी संस्थान में सर्वर धड़ाम हो गया। इसके चलते अधिकांश अभ्यर्थी परीक्षा नहीं दे सके। इससे छात्रों ने परीक्षा केंद्र के बाहर जमकर हंगामा किया। छात्रों ने मांग की कि शनिवार को पहली पाली में आयोजित परीक्षा निरस्त कर पुन: कराई जाए।



अभ्यर्थी वीरेंद्र बहादुर पांडेय ने बताया कि शनिवार को पहले दिन 25 विषयों की परीक्षा होनी थी। सुबह आठ बजे रिपोटिंग समय और नौ से 12 बजे के बीच प्रथम पाली की परीक्षा होनी थी। नौ बजे के बाद सिस्टम खोला गया तो उसमें प्रश्न ही नहीं आए थे। संस्थान प्रशासन से शिकायत की गई तो इस पर जबाब मिला कि दस मिनट में प्रश्नपत्र आ जाएगा। दस-दस मिनट कहते हुए साढ़े ग्यारह बज गए। बारह बजे के आस-पास सिस्टम पर कुछ विषयों का प्रश्न आया लेकिन संख्या अंकित थे, प्रश्न गायब रहे। इसी बीच सर्वर गायब हो गया। प्रश्न लागिन ही नहीं हो रहे थे। इससे नाराज कुछ अभ्यर्थी परीक्षा छोड़कर चल दिए। आरोप है कि इस दौरान संस्थान प्रशासन की ओर से उन्हें परीक्षा देने के लिए जबरन दबाव बनाया जा रहा था। वीरेंद्र ने बताया कि एक विषय के दो प्रश्नपत्रों में से 150 प्रश्नों के उत्तर देने थे। पहले प्रश्न पत्र से 50 सवाल और दूसरे प्रश्न से डोमेन 100 प्रश्न पूछे गए थे। दोनों पेपर एक साथ नहीं खुल रहे थे। एक खुलता तो दूसरे के प्रश्न गायब हो जा रहे थे। इसलिए परीक्षा छोड़कर चले आए।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇