परिषदीय विद्यालयों के बच्चों का पहले इन जिलों में होगा दक्षता का सर्वे


परिषदीय विद्यालयों में पांच से 16 साल तक के बच्चों के ज्ञान का अक्तूबर में सर्वे होगा। एनुअल स्टेटस ऑफ एजुकेशन रिपोर्ट (एएसईआर) में इस बार गणित और हिंदी के अलावा अंग्रेजी की दक्षता भी परखी जाएगी।

राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद के निदेशक की ओर से उप शिक्षा निदेशक व प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान को पत्र जारी कर सर्वेक्षण की तैयारी करने को कहा गया है। पत्र के मुताबिक ग्रामीण बच्चों की पठन, गणितीय दक्षता व अंग्रेजी का सर्वेक्षण जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के डीएलएड प्रशिक्षुओं के माध्यम से कराने का आदेश दिया गया है। 2018 में हाउस होल्ड सर्वे हुआ था। इसके बाद फील्ड में सर्वे नहीं हो सका। 2021 में फोन से सर्वे किया गया था।

तीन चरणों में होगा सर्वेपहले चरण 15 से 17 सितंबर तक 25 जिलों में प्रशिक्षण होगा, वहीं 18 से 19 सितंबर को 30 ग्राम सभाओं में सर्वेक्षण किया जाएगा। द्वितीय चरण में 13 से 15 अक्तूबर को 25 जिलों प्रशिक्षण होगा, व 16 व 17 अक्तूबर को 30 गांवों में सर्वे होगा। तृतीय चरण में 9 से 11 नवंबर को 20 जिलों में प्रशिक्षण होगा, वहीं 12 व 13 नवंबर को 30 गांवों में सर्वे कराया जाएगा।


पहले चरण में इन जिलों में सर्वे

वाराणसी, सोनभद्र, चंदौली, मिर्जापुर, प्रयागराज, प्रतापगढ़, संत रविदासनगर, जौनपुर, गाजीपुर, मऊ, बहराइच, गोंडा , श्रावस्ती, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, सिद्धार्थनगर, महाराजगंज, बस्ती, फैजाबाद, आजमगढ़, संत कबीर नगर, बलरामपुर, अंबेडकर नगर, कौशांबी, सुल्तानपुर, बलिया में पहले चरण में सर्वे होगा।परिषदीय विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों का सर्वे होना है। डीएलएड प्रशिक्षुओं की मदद लेकर सर्वे कराया जाएगा। हालांकि, कुछ प्रशिक्षु इंटर्नशिप पर हैं, उनके वापस आने पर प्रशिक्षण देकर सर्वे पूरा किया जाएगा। – उमेश शुक्ला, डायट प्राचार्य

.

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇