अब इस तरह परिषदीय विद्यालयों में लापरवाह शिक्षकों की खुलेगी पोल


बहराइच। अब सरकारी स्कूलों में कार्यरत लापरवाह शिक्षक अधिकारियों व अभिभावकों की नजर से नहीं बच पाएंगे। तैनाती के बाद से ही गायब रहने वाले शिक्षकों पर लगाम लगाने के लिए हर विद्यालय में हमारे शिक्षक बोर्ड लगाए जाएंगे। इन बोर्डों पर शिक्षकों के नाम से लेकर तैनाती वर्ष तक का ब्योरा अंकित रहेगा। स्कूल के मुख्य गेट के बाहर ही बोर्ड लगाए जाएंगे, ताकि निरीक्षण पर पहुंचने वाले अधिकारियों की सीधी नजर पड़े।

बेसिक शिक्षा विभाग के प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, कंपोजिट, राजकीय आश्रम पद्धति व कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में हमारे शिक्षक बोर्ड लगाने की पहल शासन ने की है। इस नई व्यवस्था से स्कूलों में कार्यरत होने के बावजूद गायब रहने वाले, प्राक्सी टीचर यानि अपने बदले दूसरे लोगों से काम कराने वाले शिक्षकों पर अंकुश लगेगा। बोर्ड के माध्यम से शिक्षकों की शैक्षिक योग्यता व अन्य जानकारियां भी सार्वजनिक होंगी। प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा ने प्रधान शिक्षक व वार्डेन को अपने स्तर से 15 दिनों के अंदर सभी परिषदीय विद्यालयों में हमारे शिक्षक बोर्ड लगाना अनिवार्य किया है। विद्यालयों में बोर्ड प्रवेश करने वाले हर अभिभावक, निरीक्षणकर्ता व अन्य लोगों को आसानी से दिखने वाले स्थान पर ही लगाना होगा। यही नहीं स्कूल में कार्यरत शिक्षकों के स्थानांतरण, पदोन्नति व सेवानिवृत्ति पर बोर्ड को अपडेट भी करना होगा।

एक बोर्ड में छह शिक्षकों का ब्योरा रहेगा

बहराइच। डीसी राकेश कुमार मिश्र ने बताया कि एक बोर्ड पर अधिकतम छह शिक्षकों का ब्योरा अंकित रहेगा। छह से अधिक होने पर शिक्षकों का ब्योरा दूसरे बोर्ड पर अंकित किया जाएगा। कहा कि सरकारी विभागों में कार्यरत अधिकारियों की तर्ज पर यह व्यवस्था सरकारी स्कूलों में की गई है। इससे यह भी ज्ञात होता रहेगा कि कौन शिक्षक कब से कब तक स्कूल में कायर्रत रहकर सेवाएं दीं।

शिक्षकवार फोटोयुक्त रहेगा बोर्ड

बहराइच। सरकारी स्कूलों में हमारे बोर्ड का मकसद विद्यालय में कार्यरत हर शिक्षक का पूरा ब्यौरा सावर्जनिक करना है, ताकि तैनाती होने के बाद न आने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई हो सके। ग्रामीण उनके बारे में जांचकर्ता को बता सकें। बोर्ड पर शिक्षक का नाम, पद, योग्यता, तैनाती वर्ष, मानव संपदा आईडी तक अंकित की जाएगी। हर शिक्षक के ब्योरे के साथ उनकी फोटो भी रहेगी, ताकि उनकी पहचान बनी रहे।

हर बोर्ड के लिए मिलेंगे 500 रुपये

बहराइच। बेसिक स्कूलों में लगने वाले बोर्ड के लिए हर विद्यालय को 500 रुपये की रकम दी जाएगी। यह बजट सभी स्कूलों के प्रधान शिक्षकों के खातों में पहुंचेगी। जिला व ब्लॉक स्तरीय अधिकारी निरीक्षण में हमारे बोर्ड का अनिवार्य रूप से अवलोकन करेंगे।

शासन ने अच्छी पहल की है। इससे स्कूल के शिक्षकों की जानकारी गांव के हर अभिभावक को होगी। निरीक्षणकर्ता भी कार्यरत शिक्षकों के बारे में जानकारी हासिल कर पाएंगे।

एआर तिवारी
बीएसए, बहराइच


UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇