17 शिक्षकों का रोका वेतन: शिक्षिका ने लगाई ऑनलाइन छुट्टी, फिर भी कार्रवाई

कन्नौज। परिषदीय स्कूलों के निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित मिले अनुदेशक, सात शिक्षामित्र और शिक्षक समेत कुल 17 लोगों के वेतन व मानदेय रोकने का आदेश सोमवार को जारी हुआ। इस मामले में कई स्कूलों के बंद होने और पूरे स्टाफ के निलंबन की अफवाह पर भी लोगों ने नाराजगी जताई है। हालांकि इन स्कूलों में तैैनात एक भी शिक्षक पर अभी तक निलंबन की कोई कार्रवाई नहीं हुई है।


दरअसल, 30 अप्रैल को बीएसए संगीता सिंह ने ब्लॉक तालग्राम क्षेत्र के कुछ परिषदीय स्कूलों का निरीक्षण किया था। प्रभारी बीएसए डॉ. अविनाश दीक्षित ने बताया कि निरीक्षण के दौरान 17 कर्मचारी नदारद मिले थे। इसमें प्राथमिक विद्यालय अमोलर में सहायक अध्यापक कुलदीप दुबे, सौरभ कुमार व हरिवंश यादव का वेतन और शिक्षामित्र निशा पांडेय व हृदेश का मानदेय रोका गया है। जूनियर हाईस्कूल अमोलर में शिक्षक वीरपाल कुशवाहा, गोपाल दत्त शर्मा व प्रिया का वेतन और अनुदेशक रमेश चंद्र का मानदेय रोक दिया गया। डॉ. दीक्षित ने बताया कि प्राथमिक स्कूल डम्मरपुर्वा में शिक्षक रूपेश कुमार व विष्णु शर्मा को वेतन और शिक्षामित्र अनिल सिंह का मानदेय ब्रेक हुआ है। इसी तरह प्राथमिक स्कूल ऊंचा में प्रधानाध्यापक सुनीता पाल, सहायक शिक्षक मधु सैनी, प्रशांत वीर, सुनील कुमार की भी तनख्वाह और शिक्षा मित्र जयलक्ष्मी का मानदेय रोका गया है। प्रभारी बीएसए ने बताया कि इस मामले में निलंबन किसी का भी नहीं हुआ है।


शिक्षिका ने लगाई ऑनलाइन छुट्टी, फिर भी कार्रवाई
भ्रामक खबरें पढ़कर सोमवार को प्राथमिक स्कूल ऊंचा की सहायक अध्यापक मधु सैनी स्कूल के बाद बीएसए कार्यालय पहुंचीं। उन्होंने बताया कि 29 अप्रैल को ही आकस्मिक अवकाश के लिए ऑनलाइन आवेदन कर दिया था, इसके बाद भी उस पर कार्रवाई कर दी गई। इस पर स्टेनो गोपाल त्रिपाठी ने बताया कि किसी भी शिक्षक या फिर शिक्षिका का निलंबन नहीं हुआ है।
ऑनलाइन अवकाश, फिर भी उत्पीड़न
प्राथमिक विद्यालय अमोलर के प्रधानाध्यापक कुलदीप दुबे ने बताया कि निरीक्षण के समय वह ऑनलाइन दो दिन के अवकाश पर थे। अभी तक उन्हें कोई नोटिस नहीं मिला है। सोमवार को स्कूल खुला था 75 बच्चे मौजूद रहे। शिक्षक सौरभ कुमार अवकाश पर हैं। अन्य स्टाफ मौजूद है।
स्कूल का सामान खरीदने गए थे, निलंबन की जानकारी नहीं
पूर्व माध्यमिक विद्यालय दलापुर्वा के इंचार्ज प्रधानाध्यापक वीरपाल कुशवाह ने बताया कि निलंबन की कोई जानकारी नहीं है। स्कूल में शिक्षण कार्य कराया जा रहा है। सहायक अध्यापक प्रिया मिश्रा सोमवार को अवकाश पर हैं। बीएसए के निरीक्षण के दौरान वह स्कूल के लिए सामान की खरीदारी करने गए थे।
कार्रवाई की सूचना नहीं मिली है
प्राथमिक विद्यालय सीतापुर्वा की प्रधानाध्यापक सोनू सिंह ने बताया कि वह समय से स्कूल आ गई थी, शिक्षामित्र और शिक्षक भी थे। सभी लोग शिक्षण कार्य कर रहे हैं। इसी तरह डम्मरपुर्वा के सहायक अध्यापक रुपेश कुमार भी निलंबन की पुष्टि नहीं कर रहे हैं।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇