बीएसए के निरीक्षण में पांच स्कूलों में मिला ताला , पूरा स्टाप निलंबित


कन्नौज।

बीएसए ने शनिवार को आधा दर्जन से अधिक विद्यालयों में ताबड़तोड़ छापेमारी की। पांच स्कूलों में ताला लटकता मिला। निरीक्षण के दौरान कई विद्यालयों में गंदगी का अंबार पाया गया। अनियमितताएं मिलने पर शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस व विद्यालय बंद मिलने पर पूरे स्टाफ को निलंबित किया गया है।


बीएसए संगीता सिंह के मुताबिक सुबह 07.31 मिनट पर तालग्राम ब्लाॅक के डम्मरपुर्वा प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया। सहायक अध्यापक रुपेश कुमार, विष्णू वर्मा, शिक्षा मित्र अनिल कुमार गैर हाजिर मिले। ताला बंद था। विद्यालय की रंगाई-पुताई भी नहीं हुई थी। पूर्व माध्यमिक विद्यालय अमोलर के निरीक्षण में अनुदेशक शिव प्रताप सिंह व एक छात्रा मौजूद मिली। सहायक अध्यापक वीरपाल कुशवाहा, गोपाल दत्त शर्मा, प्रिया मिश्रा, अनुदेशक रमेश चंद्र गैर हाजिर मिले। प्राथमिक विद्यालय अमोलर में ताला लटका मिला। प्रधानाध्यापक कुलदीप चंद्र, सहायक अध्यापक सौरभ कुमार, हरिवंश यादव, शिक्षा मित्र ह्देश कुमारी, निशा पांडेय गैर हाजिर मिलीं। प्राथमिक विद्यालय सीतापुर्वा के निरीक्षण में प्रधानाध्यापक सोनू सिंह आठ बजे व शिक्षा मित्र 08.05 बजे विद्यालय पहुंचे। सहायक अध्यापक अशोक कुमार गैर हाजिर मिले। प्राथमिक विद्यालय ऊंचा में ताला लटकता मिला। प्रधानाध्यापक सुनीता पाल, सहायक सुनील कुमार, मधू सैनी, प्रशांतवीर सिंह, शिक्षा मित्र जयलक्ष्मी गैर हाजिर मिलीं। पूर्व माध्यमिक विद्यालय ऊंचा में सहायक अध्यापक नरेद्र कुमार मेडिकल अवकाश पर मिले। 96 पंजीकृत छात्रों में 45 उपस्थित मिले। छात्रों ने दूध नहीं बंटने की शिकायत की। प्रधानाध्यापक जुबैर खां को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। पूर्व माध्यमिक विद्यालय रसूलपुर में सहायक रेनू बाला मेडिकल अवकाश पर मिली। प्रधानाध्यापक जितेंद्र शर्मा मौजूद मिले। पंजीकृत ५२ छात्रों में 34 मौजूद मिले। छात्रों ने दूध नहीं बटने की शिकायत की। प्रधानाध्यापक को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। प्राथमिक विद्यालय नंगापुर्वा में प्रधानाध्यापक रुची शाक्य मेडिकल अवकाश पर मिली। 149-92 छात्र उपस्थित मिले। स्कूल में घंटी नहीं बजाई जाती। बीएसए संगीता सिंह ने बताया कि पांच स्कूल बंद मिले हैं। समस्त स्टाफ पर निलंबन की कार्रवाई की गई है। इन विद्यालयों में हैंडवाश यूनिट खराब मिलने के अलावा गंदगी का अंबार मिला है। खेलकूद का सामान भी नहीं खरीदा गया। सभी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। विद्यालयों में दूध नहीं बंटने, अखबार नहीं पढ़ा जाने की शिकायत मिली है। सभी से स्पष्टीकरण मांगा गया है।

primary ka master, primary ka master current news, primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet ,UP basic shiksha

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇