बीता एक माह सरकारी स्कूलों में बच्चों को पुस्तकें नहीं बंटी

आजमगढ़, रानी की सराय। परिषदीय विद्यालयों में एक माह पूर्व नया शैक्षणिक सत्र की शुरुआत हो चुकी है। इस वर्ष रिकॉर्ड दाखिले कराने के लिए शासन के आदेश पर स्कूल चलो अभियान भी चल रहा है। इसके फलस्वरूप धीरे-धीरे दाखिले भी बढ़ने शुरू हो गए हैं लेकिन विद्यार्थियों को अभी तक निशुल्क किताबें नहीं बंटी हैं। हालात यह है कि नए सत्र में बच्चे पुरानी किताबों से पढ़ाई कर रहे हैं। ऐसे में काफी परेशानी हो रही है।


जिले में बेसिक शिक्षा से कुल 2702 विद्यालय संचालित हैं। जिसमें 1720 प्राथमिक, 528 उच्च प्राथमिक व 454 कंपोजिट परिषदीय विद्यालय शामिल हैं। शासन के निर्देश पर इस बार जिले में संचालित सभी विद्यालयों में अधिक से अधिक नवीन नामांकन कराने के निर्देश दिए हैं। शासन ने जिले को 81,181 नवीन नामांकन का लक्ष्य दिया गया है। जिसमें अब तक 50 हजार से अधिक बच्चों का प्रवेश हो चुका है। बाकी के लक्ष्य को पूरा कराने में विभाग जुटा हुआ है। जबकि पूर्व में ही सवा चार लाख बच्चे परिषदीय विद्यालयों में पंजीकृत थे। अब नए छात्र भी पुरानी किताबों से पढ़ाई कर रहे हैं। बेसिक शिक्षा विभाग से अभी तक किताब नहीं मिली हैं।

primary ka master, primary ka master current news, primarykamaster, basic siksha news, basic shiksha news, upbasiceduparishad, uptet

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇