68500 भर्ती के एमआरसी शिक्षकों के विद्यालय आवंटन में जमकर धांधली, बीएसए के खिलाफ पीड़ित अध्यापक ने शासन को भेजा शिकायती पत्र


 एमआरसी शिक्षकों के विद्यालय आवंटन में जमकर धांधली
बीएसए के खिलाफ पीड़ित अध्यापक ने शासन को भेजा शिकायती पत्र 
ललितपुर । शिक्षा विभाग में फैला भ्रष्टाचार थमने का नाम नहीं ले रहा है। हालही में एमआरसी अध्यापकों को विद्यालय आवंटन प्रक्रिया में धांधली के आरोप एक शिक्षक द्वारा लगाये गये हैं। बेसिक शिक्षा विभाग में ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, इससे पहले भी विद्यालय आवंटन प्रक्रिया में शासनादेशों को ताक पर रखकर कार्य होते रहे हैं।




 लेकिन बेसिक शिक्षा अधिकारी के खिलाफ कोई ठोस कार्यवाही न होने की दशा में उनका मनोबल बड़ा हुआ है।
शिक्षक राहुल कुमार पटैरिया ने बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव को भेजे शिकायती पत्र में बताया, जनपद में एमआरसी शिक्षक के रूप में आवंटन हुआ। जनपद में आवंटन की प्रक्रिया 15 सितम्बर 2022 को सम्पन्न होनी थी। 55 शिक्षकों के सापेक्ष में 60 के विद्यालय की जगह 59 विद्यालय ही खोले गये। इन विद्यालयों का आवंटन मैरिट के आधार पर होना था। लेकिन जिला बेसिक शिक्षा कार्यालय में ऐसा नहीं किया गया। पत्र में आरोप लगाया कि उसका क्रमांक 45 था, जब से उसने विद्यालय आवंटन के लिए आवेदन किया उस समय वह विद्यालय व ब्लॉक प्रदर्शित नहीं हो रहा था, जो उसके बाद 48 नम्बर पर शिक्षक को आवंटन हो गया।

उन्होंने शिक्षा सचिव से आवंटन प्रक्रिया निरस्त करते हुये, नये सिरे से प्रक्रिया कराये जाने की माँग उठायी है। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, इससे पहले भी बेसिक शिक्षा विभाग में ऐसे कई कारनामों को अंजाम दिया जा चुका है। लेकिन प्रशासन व शासनस्तर से कार्यवाही न होने की दशा में विभाग में तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों का मनोबल बढ़ा हुआ है। अब देखना यह है कि शासन द्वारा इस प्रक्रिया को निरस्त करते हुये, दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी या फिर पूर्व भांति ही विभाग में भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के लिए इस शिकायत को भी ठण्डे बस्ते में डाल दिया जायेगा।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇