देर से आने पर तालिबानी की सजा, प्रिंसिपल ने छात्रा को पीट पीटकर किया अधमरा


उत्तर प्रदेश के रायबरेली स्थित ऊंचाहार के एसएन इंटर कालेज के प्रधानाचार्य ने एक छात्रा को पांच मिनट देर से स्कूल आने पर गेट के बाहर सड़क पर लात-घूंसे और थप्पड़ जड़ दिए। इस घटना से नाराज छात्राओं ने लखनऊ-प्रयागराज राजमार्ग पर प्रदर्शन करते हुए जाम लगा दिया। करीब एक घंटे तक चले हंगामे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने छात्रों को समझा-बुझाकर राजमार्ग खुलवाया।

क्षेत्र के बाबूगंज में एसएन शिक्षा निकेतन स्कूल है। पड़ोस के गांव चड़रई चौराहा की रहने वाली कोमल मिश्रा कालेज में इंटरमीडिएट की छात्रा है। छात्रा का आरोप है कि शुक्रवार को बरसात होने के कारण वह कालेज पांच मिनट देर से पहुंची थी। तभी कालेज गेट पर प्रधानाचार्य महेंद्र सिंह ने डांटना फटकारना शुरू कर दिया। गुस्से में प्रधानाचार्य ने छात्रा को लात-घूंसे से मारने के बाद चार-पांच चांटे भी जड़ दिए। छात्रा आंचल ने बताया कि प्रधानाचार्य द्वारा मारपीट करने के बाद कोमल मिश्रा को चक्कर आ गया था। उसे सम्भालने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।

घटना की जानकारी होने पर सैकड़ों छात्र- छात्राएं कालेज से निकलकर लखनऊ-प्रयागराज राजमार्ग पर आ गए। छात्र प्रधानाचार्य के खिलाफ नारेबाजी और प्रदर्शन करते हुए राजमार्ग पर बैठकर जाम लगा दिया। करीब एक घंटे तक हंगामा होता रहा और यातायात अवरुद्ध रहा। इसकी सूचना पर प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने समझा बुझाकर उन्हें शांत किया। जाम की वजह से राजमार्ग पर दोनों तरफ कई वाहनों की लाइन लग गई।

छात्र-छात्राओं ने कोतवाली में दी तहरीर

इंटर कालेज के छात्र-छात्राओं ने कोतवाली पहुंचकर प्रधानाचार्य पर गंभीर आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। विद्यार्थियों का आरोप है कि प्रधानाचार्य कालेज में मनमानी करते हैं। जो शिक्षक पढ़ाता हैं, उसे कालेज से निकाल देते है। यही नहीं छात्रों को बात-बात पर अमानवीय तरीके से पीटते हैं। छात्राओं के बाल और चोटी पकड़कर छोटी छोटी बात पर बुरी तरह पिटाई करते हैं। छात्रों ने प्रधानाचार्य के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है। कोतवाल संजय त्यागी ने बताया कि छात्रों ने तहरीर दी है। माध्यमिक शिक्षा विभाग और कालेज के प्रबंधन को घटना की सूचना दी गई है। अधिकारियों से प्राप्त दिशा निर्देश के अनुरूप कार्रवाई की जाएगी।

मानसिक अवसाद से उबर नहीं पा रही बेटी: मां

.छात्रा कोमल मिश्रा की माता शिवदेबी पत्नी सुभाष मिश्रा का कहना है कि बेटी रोज की तरह कालेज गई थी। बेटी ने घर आकर बताया कि प्रधानाचार्य ने पांच मिनट की देरी से विद्यालय पहुंचने पर लात घूसों से पिटाई कर दी। इससे बिटिया मानसिक अवसाद में चली गई। बिटिया के सिर में गांठ है। उसका कानपुर से इलाज भी चल रहा है। उसने डॉक्टर का पर्चा भी दिखाया। अवसाद की वजह से वह अभी तक सामान्य नहीं हो पा रही है।


UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇