परिषदीय स्कूलों में संसाधन और सुविधाएं बढ़ने के साथ ही चोरों का ‘डाका’, नहीं होता किसी भी चोरी का खुलासा, रिपोर्ट दर्ज करने तक रहती कार्रवाई,चौकीदार न होने से शातिरों की रहती मौज , वारदातों के दौरान नहीं रहता कोई भी डर





फतेहपुर : नीचे दी गई चोरी की कुछ घटनाएं मात्र नजीर है। प्रदेश के  परिषदीय स्कूल बीते कई दशकों से चोरों से मुकाबला कर रहे हैं लेकिन न तो चोर पकड़े जाते हैं और न ही चौकीदारों की तैनाती की गई। जैसे जैसे स्कूलों में सुविधाएं बढ़ती जा रही हैं, वैसे ही चोरी की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं।





घटनाओं की एफआईआर तक दर्ज नहीं 

बिडंबना है कि परिषदीय स्कूलों में हुई चोरी की घटनाओं को पुलिस गंभीरता से नहीं लेती। अपना क्राइम रिकार्ड को सेहतमंद रखने के लिए इन घटनाओं के सम्बन्ध में मुकदमा तक दर्ज नहीं होता, खुलासा तो दूर की कौड़ी है। एफआईआर न होने पर हेडमास्टर या तो आनलाइन एफआईआर दर्ज कराते हैं या फिर तहरीर पर मुहर लगवाकर सबूत के तौर पर रख लिया जाता है।


सरकार सुविधाएं देती, चोर चुरा लेते 

परिषदीय स्कूलों में बुनियादी सुविधाओं की स्थापना के लिए सरकार ने गैस सिलेण्डर, चूल्हा, बर्तन, सबमर्सिबल पंप, सोलर पैनल, पंखे और अन्य तमाम सुविधाएं उपलब्ध कराईं है। तमाम स्कूलों में चोर इन सामानों में हाथ साफ कर देते हैं। ऐसे में सरकार की मंशा धरातल पर सफल साबित नहीं हो रही है।


स्कूलों में एक बार नहीं कई बार चोरी 

ऐसे कई परिषदीय स्कूल हैं जहां एक बार नहीं, कई बार चोरी हुई है। कल्याणपुर थाना क्षेत्र के प्रावि साई में पांच बार, प्रावि सगुनापर में छह बार, प्रावि हरबंशपुर में तीन बार, सीएस पहरवापुर में छह बार, प्रावि अदमापुर में चार बार चोरी की घटनाएं हुईं।


जिले के एक अन्य उत्कृष्ट विद्यालय मलवां क्षेत्र के कम्पोजिट विद्यालय पहरवापुर में अब तक छह बार चोरी हुई। गैस सिलेण्डर, मिड डे मील बर्तन, 16 सोलर पैनल समेत हजारों का माल चोर ले गए। हेडमास्टर नीलम भदौरिया ने कहा कि चौकी चौडगरा में प्रार्थना पत्र दिया गया। तहरीर में मुहर लगाकर दे दी गई और कहा कि यही एफआईआर है। अब तक मामला ज्यों कर त्यों है।


बहुआ कस्बे के गांधीनगर मोहल्ला स्थित प्रावि में खिड़की तोड़कर चोरी कर ली। चोरों ने ब्लूटूथ स्पीकर, रेडियो, स्टेशनरी, खेल का सामान समेत लाकर तोड़कर सामान तहस नहस कर दिया। हेडमास्टर नीलम देवी ने बताया कि दो वर्ष में तीन बार चोरी की घटनाएं हुईं।


चौडगरा क्षेत्र के ही प्रावि अदमापुर में चार बार चोरी की घटनाएं हुई। चोर काफी सामान ले गए। हेडमास्टर प्रमोद कुमार ने बताया कि चौकी में सिर्फ तहरीर में मुहर लगाकर दे दी।


जिले के उत्कृष्ट स्कूलों में शुमार ऐरायां ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय मलूकपुर में बीती जुलाई को अज्ञात चोरों ने प्रोजेक्टर, सीलिंग फैन, कुर्सियां और खेल के सामान समेत करीब सत्तर हजार का माल पार कर दिया। हाल ही में सबमर्सिबल की केबिल काट ले गए। हेडमास्टर ने थाने में तहरीर दी लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं हुई। आनलाइन एफआईआर दर्ज कराई गई।



UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇