प्रशिक्षण में शिक्षकों के भोजन में कटौती,मेन्यू का पालन नहीं, फुल डाइट नहीं दोपहर में दे रहे पूड़ी-सब्जी का पैकेट


प्रशिक्षण में शिक्षकों के भोजन में कटौती,मेन्यू का पालन नहीं, फुल डाइट नहीं दोपहर में दे रहे पूड़ी-सब्जी का पैकेट

कुंडा बाबागंज में प्रशिक्षण के दौरान शिक्षकों को आधा-अधूरा खाना दिया जा रहा है। शासन से तय मेन्यू को दरकिनार कर उन्हें पूड़ी-सब्जी के पैकेट बांटे जा रहे हैं। इससे शिक्षकों में नाराजगी है।


कुंडा, बाबागंज में निपुण भारत मिशन के तहत शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। यह प्रशिक्षण चार दिन का है। शासन ने इसमें शामिल होने वाले शिक्षकों के भोजन व नाश्ते के लिए बाकायदा मेन्यू बनाकर भेजा है। सुबह चाय पकौड़ी, बिस्किट, समोसा के साथ दही जलेबी को शामिल किया है। वहीं दोपहर के भोजन में दाल, चावल, रोटी, दो तरह की सब्जी ( जिसमें पनीर भी शामिल है) के साथ पापड़, सलाद अचार व एक मिठाई देने के निर्देश हैं। प्रशिक्षण में शामिल शिक्षकों को शाम के वक्त चाय-बिस्किट दिया जाना तय है। चारों दिन के लिए अलग-अलग मेन्यू निर्धारित हैं। इसमें खास तौर से दोपहर के भोजन को प्रभावी बनाया गया है। बावजूद इसके दोनों ब्लॉकों में प्रशिक्षण के दौरान सुबह चाय-बिस्किट और दोपहर में पूड़ी-सब्जी का पैकेट बांटे जा रहे हैं।




बीआरसी में आयोजित प्रशिक्षण में दोपहर के भोजन की कीमत 150 रुपये तय की गई है, लेकिन इसे पैकेट में बदलकर इसकी कीमत महज 50 रुपये कर दी गई है। इस पैकेट को देखकर शिक्षकों में आक्रोश है। आरोप है कि मानक के विपरीत दिए जा रहे भोजन पर सवाल उठाने वालों की आवाज को दबाने के लिए दबंग शिक्षकों को लगाया गया है।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇