शिक्षक सुधारें शिक्षा का स्तर : उपमुख्यमंत्री

वाराणसी। डिप्टी सीएम और उच्च शिक्षामंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने शनिवार को महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ परिसर में समीक्षा बैठक की। विद्यापीठ गेस्ट हाउस में हुई बैठक में विद्यापीठ, संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति और कुलसचिव के साथ उच्च शिक्षाधिकारी, संयुक्त शिक्षा निदेशक और जिला विद्यालय निरीक्षक मौजूद थे। डिप्टी सीएम ने नियुक्तियों में पारदर्शिता के साथ शिक्षा की गुणवत्ता में कोई कोताही न बरतने की हिदायत दी।कहा-शिक्षा की स्तर सुधारें।

उन्होंने कहा कि नियुक्ति से संबंधित प्रक्रिया में अनियमितता पर जिला विद्यालय निरीक्षक के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।


उन्होंने बताया कि संस्कृत विद्यालयों में रिकॉर्ड शिक्षकों की भर्ती पूरी पारदर्शिता के साथ की गयी। शिक्षकविहीन विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति कर शिक्षा के स्तर में गुणात्मक सुधार सुनिश्चित किया गया है। लिपिक भर्ती के संबंध में उन्होंने बताया कि नया शासनादेश जारी किया गया है। शासनादेश के विरुद्ध भर्ती करने पर संबंधित के खिलाफ कड़ी विधिक कार्यवाही की जाएगी।

उपमुख्यमंत्री डॉ. शर्मा ने बताया कि बोर्ड परीक्षा में अनुत्तीर्ण विद्यार्थियों को एक और अवसर दिया जा रहा है। उन्हें अंक शोधन के लिए एक अवसर दिया गया था, परंतु उसके पश्चात भी जो विद्यार्थी उत्तीर्ण नहीं हो पाए या परीक्षा नहीं दे पाए, उनको एक और अवसर दिया जा रहा है। फॉर्म ऑनलाइन भरे जा रहे हैं। फार्म भरने की अंतिम तिथि 15 दिसंबर है। फार्म भरने में कोई शुल्क नहीं लिया जा रहा है। असिस्टेंट प्रोफेसर से एसोसिएट प्रोफेसर की पदोन्नति के संबंध में उन्होंने पूरी प्रक्रिया 15 जनवरी तक पूर्ण करने के आदेश दिए।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇