स्कूल टाइम में निजी विद्यालय में मिलीं परिषदीय शिक्षिका निलंबित, विभाग में मचा हडकंप


फिरोजाबाद: खंड शिक्षाधिकारी को स्कूल समय में निजी विद्यालय में मिलीं शिक्षिका को एबीएसए की रिपोर्ट पर बीएसए ने निलंबित कर दिया है। वहीं, एक अन्य शिक्षक को भी बीएसए ने निलंबित कर जांच कमेटी गठित कर दी है। बेसिक शिक्षा विभाग में हुई इस कार्रवाई से शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा है।



बीते दिनों नारखी में खंड शिक्षाधिकारी जितेंद्र सिंह ने एक शिकायत पर प्राथमिक स्कूल में जांच की थी। ग्रामीणों ने कहा कि इंचार्ज अपना प्राइवेट कॉलेज चलाती है। स्कूल में कुछ ही देरी के लिए आती हैं। इस पर बीईओ जब शिक्षिका के प्राइवेट इंटर कॉलेज में पहुंचे तो उन्हें फॉर्म भरते पकड़ा। शिक्षिका के खिलाफ कार्रवाई की

संस्तुति विभाग से की थी। बीएसए ने इंचार्ज शिक्षिका माध्वी शास्त्री को म निलंबित कर दिया है। वहीं गढ़ी सिरसैला में तैनात प्रशांत को भी निलंबित किया गया है। स्कूल में दो शिक्षकों में विवाद के बाद विभाग ने जांच कराई थी। एक शिक्षक ने दूसरे पर स्कूल न आने और दबाव बनाने का आरोप लगाया था विवाद को देखते हुए विभाग ने इंचार्ज प्रधानाध्यापक आशीष को स्कूल से हटा दिया, लेकिन इसके बाद में प्रक प्रशांत चार्ज नहीं ले रहे थे। कई बार प्ररू बीईओ के कहने पर भी चार्ज न लेने पर बीएसए ने शिक्षक को निलंबित किया है।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇