परिषदीय विद्यालयों का औचक निरीक्षण के दौरान शिक्षक की भूमिका में नजर आए डीएम

मोतिगरपुर (सुल्तानपुर)। डीएम व सीडीओ ने बृहस्पतिवार को स्थानीय विकास खंड के कई परिषदीय विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया। डीएम ने एक स्कूल में ब्लैकबोर्ड पर बच्चों से रासायनिक सूत्र व गणित से जुड़े कई प्रश्न पूछे। कुछ बच्चों ने प्रश्नों का जवाब भी दिया। उन्होंने विद्यालय में टूटी डेस्क-बेंच देखकर नाराजगी जताई।


जिलाधिकारी रवीश गुप्ता व मुख्य विकास अधिकारी अतुल वत्स ने पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय आश्रम पद्धति इंटरमीडिएट कॉलेज मलिकपुर बखरा का निरीक्षण किया। इस दौरान डीएम ने स्वयं कक्षाओं की जिम्मेदारी संभाली और एमडीएम को चखा। इसके बाद कंपोजिट विद्यालय मोतिगरपुर पहुंचे। यहां कक्षा आठ में प्रधानाध्यापक मन्नो श्रीवास्तव शिक्षण कार्य करती पाई गईं। डीएम ने बच्चों से स्वतंत्रता संग्राम से जुड़ी वीरांगनाओं का नाम पूछा। जिस पर कुछ बच्चों ने झांसी की रानी लक्ष्मीबाई व झलकारी बाई के बारे में बताया।

इसके बाद डीएम ने बच्चों से गणित के साथ ही जीव विज्ञान से जुड़े कई प्रश्न ब्लैक बोर्ड पर लिखकर पूछे। कुछ बच्चों ने एक-दो सवालों का सही जवाब भी दिया। इसी विद्यालय में कक्षा सात के कक्ष में हाल में आपूर्ति की गई डेस्क-बेंच टूटी देखकर नाराजगी जताई। शिक्षण कार्य की गुणवत्ता परखने के बाद दोनों अधिकारियों ने एमडीएम को चखा और उसकी गुणवत्ता की सराहना की।
वहीं पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय आश्रम पद्धति इंटरमीडिएट कॉलेज मलिकपुर बखरा में कक्षा नौ में सरिता त्रिपाठी संस्कृत विषय का शिक्षण कार्य कर रही थीं। यहां भी डीएम ने बच्चों से सवाल-जवाब किए। छात्र शिवांश पटेल व शिवम कुमार ने बड़ी सहजता से कई सवालों का उत्तर दिया।


👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇