शिक्षिकाओं ने लेखाधिकारी के बाबू को चप्पलों से पीटा, दफ्तर में पहुंचकर दनादन बरसाईं चप्पलें, ये है कारण

 

शिक्षिकाओं ने लेखाधिकारी के बाबू को चप्पलों से पीटा, दफ्तर में पहुंचकर दनादन बरसाईं चप्पलें, ये है कारण
अमरोहा के वित्त एवं लेखाधिकारी (AO) बेसिक डॉ. अनुराग द्विवेदी के बाबू शैलेंद्र की 2 शिक्षिकाओं ने चप्पलों से पिटाई कर दी। बाबू पर एक शिक्षिका का तबादला होने के बाद लास्ट पेमेंट स्लिप (LPC) देने की एवज में घूस मांगने का आरोप है।बाबू पर शिक्षिका से फोन पर बदसुलूकी करने के भी आरोप हैं। घटना के बाद बाबू ऑफिस छोड़कर भाग निकला। करीब सप्ताहभर पुराना यह मामला बेसिक शिक्षा विभाग में चर्चा का विषय बना हुआ है। इस घटना से अमरोहा AO अनुराग द्विवेदी की कार्यप्रणाली पर भी कई गंभीर सवाल उठ रहे हैं। उनकी तैनाती के बाद से ही अमरोहा एओ ऑफिस पर कई बार भ्रष्टाचार के आरोप लग चुके हैं।“मैं यूनियन की राजनीति का शिकार हुआ”अपने साथ हुई घटना पर बाबू शैलेंद्र ने कहा-“मैं टीचर्स यूनियन की राजनीति का शिकार हुआ हूं। यूनियन के कुछ लोग मुझसे नाराज रहते हैं। उन्होंने ही महिलाओं को भड़काया। 2 महिलाओं ने आते ही मेरे साथ दफ्तर में बदतमीजी और मारपीट शुरू कर दी। 10 दिन पहले अमरोहा से गाजियाबाद के लिए ट्रांसफर हुई एक महिला टीचर भी इन दोनों महिलाओं के साथ में थी। वह अपने पति के साथ इस दौरान ऑफिस के बाहर खड़ी रही।”पिटने के बाद भी बाबू ने नहीं की शिकायतअमरोहा का वित्त एवं लेखाधिकारी भ्रष्टाचार के आरोपों की वजह से पिछले 6 महीने में कई बार सुर्खियों में आ चुका है। मंडलायुक्त आन्जनेय कुमार सिंह तक भी AO डॉ. अनुराग द्विवेदी की कई इसकी शिकायतें पहुंच चुकी हैं। ताजा घटना में जिस तरह अपने साथ सरेआम मारपीट के बाद भी बाबू ने पुलिस में FIR दर्ज नहीं कराई उससे इन आरोपों को बल मिल रहा है।



बाबू ने कहा-पीटने वाली महिलाएं हायर की गईं​​​​​​​बाबू शैलेंद्र का कहना है कि जिन दो महिलाओं ने उनके साथ मारपीट की, वह शिक्षिकाएं नहीं थीं। बाबू का दावा है कि दोनों महिलाओं को टीचर्स यूनियन के कुछ पदाधिकारियो ने इस काम के लिए हायर किया था। जिस शिक्षिका का LPC का प्रकरण था वह भी दोनों के साथ आई थी। लेकिन उसने मारपीट नहीं की। वह अपने पति के साथ गेट पर खड़ी रही। बाबू शैलेंद्र ने यह भी कहा कि उनकी बहन के ससुराल वालों से उनका कुछ विवाद चल रहा है। उन लोगों ने भी इस मामले को हवा दी और वह भी इसमें शामिल थे।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇