बड़ी कार्रवाई: 45 परिषदीय विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों का रोका वेतन, जानें क्या है मामला


सुल्तानपुर जिले के 45 परिषदीय विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों एवं प्रभारी प्रधानाध्यापकों का वेतन जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) ने रोक दिया है। प्रधानाध्यापकों पर खाद्यान्न व कन्वर्जन कॉस्ट की धनराशि वितरित कर सूचना प्रेरणा पोर्टल पर अपडेट नहीं करने का आरोप है।




सभी विद्यालयों में नामांकित छात्र-छात्राओं के सापेक्ष खाद्य सुरक्षा भत्ता का वितरण कर प्रेरणा पोर्टल पर 12 अगस्त 2022 तक अपलोड करने का निर्देश दिया गया था प्रेरणा पोर्टल के अनुसार 45 विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों ने कन्वर्जन कॉस्ट व खाद्यान्न वितरण से लाभान्वित करने के बाद प्रेरणा पोर्टल पर शत- प्रविशत डाटा अपलोड नहीं कराया है। इसका खुलासा समीक्षा बैठक में हुआ। इसके चलते बेसिक शिक्षा अधिकारी को स्कूल शिक्षा महानिदेशक की समीक्षा बैठक में असहज स्थिति का सामना करना पड़ा। इसको देखते हुए बीएसए दीपिका चतुर्वेदी ने 45 प्रधानाध्यापकों एवं प्रभारी प्रधानाध्यापकों का वेतन अग्रिम आदेश तक रोक दिया है। निर्देश दिया है कि खाद्यान्न व कन्वर्जन कॉस्ट की धनराशि वितरित कर सूचना प्रेरणा पोर्टल पर अपलोड कराते हुए खंड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से रिपोर्ट भेजे।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇