बेसिक स्कूलों के लगातार निरीक्षण से स्कूलों तस्वीर बदली आने लगी नजर, शिक्षक मन लगाकर अपने कर्तव्य का कर रहे पालन



लखीमपुर, बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों के लगातार निरीक्षण से तस्वीर बदली नजर आने लगी है। मंगलवार को ईसानगर ब्लॉक के 52 स्कूलों का एक साथ टीमों ने औचक निरीक्षण किया। खास बात यह है कि किसी भी स्कूल में न तो शिक्षक अनुपस्थित मिले न ही शिक्षामित्र और अनुदेशक । बीएसए डॉ. लक्ष्मीकांत पाण्डेय का कहना है कि अब स्कूलों में शिक्षा का स्तर बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। इसलिए निरीक्षण के दौरान बच्चों से उनकी कक्षा के अनुसार सवाल पूछे जा रहे हैं।





मंगलवार को बीएसए ने ईसानगर के पांच स्कूलों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान स्कूलों में क्लास में जाकर बच्चों को पढ़ाया, उनकी कक्षा के अनुसार सवाल पूछे। हिन्दी और गणित पढ़ाया। वहीं सभी खंड शिक्षा अधिकारी, जिला समन्वयकों ने भी स्कूलों का निरीक्षण किया। बीएसए ने बताया कि मंगलवार को ईसानगर ब्लॉक के कुल 52 स्कूलों का निरीक्षण एक साथ किया गया।

निरीक्षण के दौरान सभी शिक्षक, शिक्षामित्र व अनुदेशक स्कूलों में उपस्थित मिले। एक-दो जगहों पर एमडीएम की गुणवत्ता ठीक नहीं मिली। इसको सुधार का निर्देश दिया गया। वहीं शिक्षकों से अब शिक्षा का स्तर बढ़ाने, निपुण लक्ष्य पूरा करने पर फोकस करने के लिए कहा जा रहा है। उन्होंने कहा कि बीईओ को भी निर्देश दिया गया है कि निरीक्षण के दौरान निपुण भारत लक्ष्य को लेकर बच्चों से सवाल जरूर पूछें। शिक्षा का स्तर बढ़ाने पर फोकस करें।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇