शिक्षक को बड़ा झटका, हो गया ये खेल!

इटावा के बसरेहर ब्लॉक के विशुनपुर लहरोई में तैनात एक शिक्षक के खाते से ऑनलाइन एक लाख सत्तर हजार रूपए निकलने का मामला सामने आया है। पीड़ित शिक्षक ने एसएसपी से गुहार लगाकर साइबर फ्रॉड से निकाले गए रुपए वापस दिलवाने की गुहार लगाई है। एसएसपी के आदेश पर साइबर सैल टीम ने जांच शुरु कर दी है। जानकारी के मुताबिक सराहार थाना क्षेत्र के नगला दुली निवासी नीतेश्वर कुमार बसरेहर व्लाक के विशुनपुरा लहरोही मे शिक्षक है। शुक्रवार को वह स्कूल में बच्चों को पढ़ा रहे थे। उसी समय उनके पास 7866901725 नंबर से उनके मोबाइल पर एक फोन आया। सामने वाले शख्स ने खुद को एसबीआई बैंक की तरफ से क्रेडिट कार्ड कार्ड जारी व बंद करवाने वाला अधिकारी बताया। उसने कहा कि आपके नाम क्रेडिट कार्ड जारी हुआ है उसे आप प्रयोग नहीं कर रहे हैं तो क्या आप उसे बंद करवाना चाहते हैं। 




इस पर शिक्षक ने क्रेडिट कार्ड बंद करवाने के लिए हां कर दिया। इस पर फोन करने वाले व्यक्ति ने मोबाइल नम्बर पर लिंक भेजा। जिसे ओपन करते ही एक ओटीपी आया जिसे उन्होंने फोन करने वाले व्यक्ति को साझा कर दिया। इस पर उनके खाते से तीनों किस्तों में पहले 25 हजार, फिर 49 हजार 999 व तीसरी किस्त में 94 हजार 400 रुपए क्रेडिट कार्ड के जरिए निकाल लिए गए। अगले दिन जब बैंक से क्रेडिट कार्ड की लिमिट यूज करने का मैसेज आया तो उन्हें ठगी होने की जानकारी हुई।

UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु NOTES 👇