प्राथमिक स्कूल की छत ढही, छुट्टी होने से हादसा टला


 सकीट । primary ka master

रविवार को दिन में उच्च प्राथमिक विद्यालय विद्यालय इशारा पूर्वी की छत अचानक भरभरा कर गिर गई। अचानक स्कूल की छत गिरने के बाद गांव के अभिभावकों के मुंह से निकला ‘अच्छा हुआ रविवार के दिन छत गिरी है। अन्य कार्यदिवस में स्कूल खुलने पर छत गिरती। तब न जाने कितने बच्चे, शिक्षक हताहत होते।’


ब्लॉक क्षेत्र के गांव ग्राम इशारा पूर्वी के उच्च प्राथमिक विद्यालय इशारा पूर्वी के कमरा की छत रविवार दिन में अचानक भरभराकर गिर गयी। गनीमत रही कि आज रविवार था। जिससे एक बड़ा हादसा होने से बच गया। विद्यालय की छत अचानक गिरने से आसपास के लोग भयभीत हो गए। गनीमत रही यह घटना रविवार के दिन हुई। स्कूल खुलने के समय छत गिरी होती तो कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था। सोचने की बात यह है कि विद्यालय की इमारत काफी पुरानी और जर्जर है। प्राथमिक विद्यालय भी उसी ग्राउंड में बना हुआ है। विद्यालय की बाउंड्री वाल भी नही कराई गई है।

काफी पुरानी बिल्डिंग, बाउंड्रीवाल न होने के कारण जंगल जैसा दिखाई देता है। जिससे बच्चों को सांप, बिच्छू, कीड़ा, मकोड़ा आदि का डर बना रहता है। शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों ने इस तरफ कोई ध्यान नही दिया गया है। प्रधानाध्यापक देवेश कुमार का कहना है कि जिस कक्ष की छत गिरी है। वह काफी जर्जर था और वर्तमान में बंद चल रहा था। उसमें पठन-पाठन का कार्य नहीं होता था।

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇