लोकभवन में मुख्य सचिव से मिला यूटेक प्रतिनिधिमंडल, शिक्षकों के इन मुद्दों में चर्चा, पढ़े सूचना

 

लोकभवन में मुख्य सचिव से मिला यूटेक प्रतिनिधिमंडल, शिक्षकों के इन मुद्दों में चर्चा, पढ़े सूचना 
जैसा कि आप जानते हैं पुरानी पेंशन बहाली हेतु यूनिक टीचर्स इम्प्लाइज कमेटी ( यूटेक) 13 दिसंबर को इको गार्डन लखनऊ में पेंशन अधिकार रैली करने जा रहा है, इसी वजह से शिक्षकों व कर्मचारियों के दबाव में प्रशासन ने वार्ता के लिए यूटेक प्रतिनिधिमंडल को अपर सचिव कार्मिक डॉ देवेश चतुर्वेदी जी से मुलाकात और संवाद के लिए आमंत्रित किया।



 लोक भवन प्रथम तल कार्मिक विभाग में एसीपी हजरतगंज लखनऊ श्री अखिलेश सिंह के साथ एसीएस कार्मिक से मिले । प्रतिनिधिमंडल में श्री प्रदीप सरल प्रदेश अध्यक्ष यूटेक, प्रदेश उपाध्यक्ष श्री निर्मेष पांडे, प्रदेश कोषाध्यक्ष श्री मनोज मौर्य, प्रदेश सलाहकार श्री अशोक शुक्ला तथा सहयोगी संगठनों से पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष श्री क्रांति सिंह तथा श्री राजू भारती, आईटीआई कर्मचारी संघ उत्तर प्रदेश की महामंत्री श्रीमती अर्चना मिश्रा तथा चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी महासंघ के प्रदेश महामंत्री श्री राम नरेश यादव जी शामिल रहे।*

प्रांतीय अध्यक्ष प्रदीप सरल ने अपर सचिव कार्मिक से न्यूनतम पेंशन व्यवस्था की बहाली/ जीपीएफ व्यवस्था की बहाली सहित नवीन पेंशन व्यवस्था की विसंगतियों पर जोरदार बहस की और इसकी वास्तविकता से अपर सचिव कार्मिक को अवगत कराया। उन्होंने न्यूनतम पेंशन/ जीपीएफ निकासी व्यवस्था सहित अन्य कई महत्वपूर्ण सुझाव दिए। इसी दौरान प्रदेश कोषाध्यक्ष यूटेक मनोज मौर्य ने कैशलेस चिकित्सा व्यवस्था तथा सामूहिक बीमा प्रकरण पर भी चर्चा की, जिस पर उन्होंने मुख्य सचिव के समक्ष इन समस्त प्रकरणों को रखने की बात कही।


डॉ देवेश चतुर्वेदी जी ने पुरानी पेंशन व्यवस्था की बहाली के संबंध में यह स्वीकार किया कि उनके स्तर से नवीन पेंशन व्यवस्था में जो जटिलताएं हैं उनके निराकरण का प्रयास किया जाएगा।

इसी दौरान क्रांति सिंह जी ने सफाई कर्मचारियों के दर्द को साझा करते हुए बताया कि इतनी कम सैलरी होने के बावजूद पेंशन की गारंटी नहीं होने पर कर्मचारी अपने आप को ठगा महसूस कर रहा है। आईटीआई संघ की महामंत्री अर्चना मिश्रा ने भी अपनी बात रखी साथ में श्री राम नरेश यादव महामंत्री राज्य कर्मचारी चतुर्थ श्रेणी महासंघ ने भी कर्मचारियों की पेंशन से जुड़े मुद्दे रखे।

प्रदेश अध्यक्ष यूटेक प्रदीप सरल ने बताया कि अपर सचिव कार्मिक को शासन ने पुरानी पेंशन बहाली से जुड़े मुद्दों के समाधान के लिये वार्ता और समाधान कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

इसी क्रम में अपर सचिव कार्मिक डॉ देवेश चतुर्वेदी जी ने यूटेक प्रतिनिधिमंडल से करीब 1 घंटे से अधिक समय तक NPS/OPS मुद्दे पर चर्चा-परिचर्चा की, इस दौरान प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने एनपीएस से जुड़ी समस्याओं से उन्हें अवगत कराया गया, उनके द्वारा प्रतिनिधिमंडल को आश्वासन दिया गया की वह सभी विभागों को एनपीएस से जुड़े मामलों को अपडेट करने के लिए कहेंगे, और यथासंभव संगठन द्वारा सुझाए गए विषयों पर उच्चाधिकारियों के समक्ष हमारी बात रखेंगे।

उन्होंने बताया इस मुद्दे पर लगाता सरकार मंथन कर रही है, और जल्द ही इसमें व्यापक स्तर पर सुधार किया जा सकता है।

 इस दौरान यूटेक के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप सरल ने कोरोना के बढ़ते प्रकोप,तथा अन्य विपरीत परिस्थितियों को देखते हुए 13 दिसंबर की रैली स्थगित करने की भी घोषणा इस आशय से की की यदि जल्द ही शासन स्तर से उनकी मांगो पर सफल क्रियान्वयन नहीं होता तो शिक्षक व कर्मचारियों को आंदोलित होने से रोकना मुश्किल होगा ।

 अतः अपर सचिव कार्मिक को अवगत करा दिया गया, यदि उक्त मुद्दों पर आगामी कुछ दिनों में सरकार निर्णय नहीं लेती है तो संगठन प्रदेश कार्यकारिणी के साथ बैठक कर आगे के संघर्ष की रणनीति तैयार करेगा जिसमें आपके सक्रिय सहयोग की अपेक्षा संगठन को रहेगी |


वार्ता के दौरान प्रदीप सरल ने 1 अप्रैल 2005 के पूर्व नियुक्त माध्यमिक शिक्षको का मुद्दा भी उठाया, एसीएस सर को अवगत कराया कि 17 फरवरी 2020 केंद्र के शासनादेश के अनुसार उन्हें पुरानी पेंशन व्यवस्था में लाया जाए, जिस पर उन्होंने बताया की इस प्रकरण को आज ही वित्त सचिव को भेज दिया जाएगा जिस पर प्रदीप सरल ने निवेदन किया कि 1000 संख्या है इस पर उन्होंने सहमति दी कि जल्द ही इस प्रकरण का समाधान कर दिया जाएगा।



जेपी सेठ

प्रदेश मीडिया प्रभारी


अतुल मिश्र

प्रांतीय आई.टी.सेल प्रभारी

👇UPTET/CTET/SUPER TET, शिक्षक भर्तियों व अन्य भर्तियों हेतु नोट्स 👇